Sunday , January 23 2022

नृत्‍य, नाटक, बैंड जैसी कलाओं ने लुभाया युवाओं को

अतरंगी-मेधा एलुमनाई यूथ फेस्टिवल 2019 का आयोजन

लखनऊ। लखनऊ के गोमती नगर में आज उत्सव का माहौल देखने को मिला जब संगीत नाटक अकादमी में अतरंगी-मेधा एलुमनाई यूथ फेस्टिवल 2019 में हज़ारों की तादाद में युवा वर्ग के लोग इकट्ठा हुए। मेधा के सहयोग से मेधा एलुमनाई द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में विभिन्न रचनात्मक क्षेत्रों के मेधावी कलाकारों ने अपनी अनूठी कलाओं का प्रदर्शन किया।

इस एकदिवसीय उत्सव में मेधा एलुमनाई के परिधान, चित्रकला, रसोईशास्त्र, अभिनय इत्यादि विधाओं के कलाकारों ने हिस्सा लिया और दर्शकों का मन मोह लिया। इस आयोजन के लिए देश के 3 राज्यों के 11 शहरों से आये कुल 500 आवेदनों में से 30 कलाकारों का चयन किया गया था। मंचीय कार्यक्रमों में चुने गए कलाकारों द्वारा साईफर नृत्य, एकांकी, बैंड, लाइव स्केचिंग इत्यादि कलाओं का अनोखा प्रदर्शन देखने को मिला।

मेधा एलम के स्केच आर्टिस्ट शिवम ने कहा,“कला मेरी ज़िन्दगी का उद्देश्य है और मेधा मेरे लिए मेरा घर है|ये मेरे लिए एक बेहद ख़ास दिन था|” मेधा एलम की प्रतिभागी नैनिका ने कहा “मैंने पहली बार इतने बड़े मंच पर प्रस्तुति की। यह एक बहुत खूबसूरत अनुभव था। मुझे लगता है मैं ये दिन कभी नहीं भूलूंगी|”

मंचीय कार्यक्रमों के इलावा हुई गतिविधियों में मेधावी एप्प लांच, मेधा टिकटोक चैनेल लॉन्च, पबजी बैटल ग्राउंड, कोसप्ले, एवम् सद्भावना ट्रस्ट के सहयोग से आयोजित जेंडर अवेयरनेस से जुड़े कार्यक्रम भी पेश किये गए।

मेधा के एक एलम उत्कर्ष ने कहा “इस उत्सव की तैयारी सितम्बर से ही शुरू हो चुकी थी, उद्देश्य था देश भर के मेधावी कलाकारों की प्रतिभा पहचान कर उन्हें एक मंच प्रदान करना, अतरंगी देश को बदलने का सामर्थ्य रखने वाले प्रतिभावान युवाओं की शिनाख्त कर उनके अन्दर की प्रतिभा को निखारने की ओर प्रयत्नशील है।”

आपको बता दें कि मेधा लखनऊ में स्थित एक नॉन प्रॉफिट संस्था है जो कि भविष्य के लिए मेहनत कर रहे छात्रों के साथ काम करती है और उन्हें स्कूल के बाद की ज़िन्दगी के लिए तैयार करता है।