Wednesday , July 6 2022

हरियाणा सरकार की तरह सभी राज्‍यों में हो दोगुने वेतन की व्‍यवस्‍था

-हरियाणा सरकार ने कोविड-19 के मद्देनजर मौजूदा समय में दे रखी है यह सुविधा
-इप्‍सेफ ने की सभी राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों से मांग

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। इंडियन पब्लिक सर्विस इंप्लाइज फेडरेशन (इप्सेफ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी पी मिश्रा, महामंत्री प्रेमचंद एवं सचिव अतुल मिश्रा ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से मांग की है कि कोरोना-19 के मरीजों का इलाज करने वाले डॉक्टर, नर्सेज एवं समस्त पैरामेडिकल स्टाफ एवं सफाई कर्मचारी वार्ड बॉय आदि सभी कर्मचारियों को हरियाणा सरकार के निर्णय के अनुरूप उनका वेतन दोगुना किया जाए। इससे उन सभी कर्मचारियों का मनोबल बढ़ेगा और वह मेहनत से अपनी जान एवं परिवार की परवाह किए बिना गंभीर मरीजों के इलाज पूरी तन्मयता से मिलकर सेवा करेंगे।

वी पी मिश्रा ने कहा कि बहुत से कर्मचारी इलाज में रात दिन व्यतीत करने के कारण अपने बच्चों से भेंट नहीं कर पा रहे हैं। बच्चे उनकी याद में रोते बिलखते हैं। इप्सेफ ने जिला प्रशासन एवं पुलिस के अधिकारियों, कर्मचारियों द्वारा की जा रही अभूतपूर्व सेवा की भी सराहना की है और उनके वेतन व अन्य सुविधाओं में बढ़ोतरी की मांग की है। सफाई कर्मचारी भी बधाई के पात्र हैं जो संक्रमण की परवाह किए बिना सफाई करने में रात दिन लगे हुए हैं।

इप्सेफ नेताओं ने मुख्यमंत्रियों से आग्रह किया है कि अस्पतालों में इलाज के लिए समुचित दवाएं व अन्य जीवन रक्षक सुविधाएं तत्काल मुहैया कराएं। कई प्रदेशों से शिकायतें मिली हैं कि कर्मचारियों की सुरक्षा के कोई उपाय नहीं किए गए हैं, जिसकी वजह से डॉक्टर, कर्मचारी लिख भी चुके हैं।

अतुल मिश्रा ने बताया कि अस्पतालों में स्टाफ भी आकस्मिक ड्यूटी करते हैं, सरकार आउटसोर्सिंग से अस्पताल चला रही है, यह इलाज की प्रक्रिया में हितकर नहीं है। इप्सेफ ने प्रधानमंत्री से मांग की है कि अस्पतालों में संसाधनों, उपकरण एवं ट्रेंड कर्मचारियों की कमी को दूर करने की व्यवस्था करें, उपकरणों के बिना इलाज संभव नहीं है।