Wednesday , July 6 2022

एम्‍स गोरखपुर व यूनिसेफ की टीम ने किया लोकबंधु अस्‍पताल का निरीक्षण

-बेबी फ्रेंडली हेल्थ इनिशिएटिव एवं मां कार्यक्रम के तहत होने वाली गति‍विधियों को परखा

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। एम्स गोरखपुर और यूनिसेफ उत्तर प्रदेश की टीम के द्वारा लोकबंधु राजनारायण संयुक्त चिकित्सालय में बेबी फ्रेंडली हेल्थ इनिशिएटिव एवं मां कार्यक्रम के तहत होने वाली गतिविधियों का औचक निरीक्षण करने आज एक टीम यहां अस्‍पताल पहुंची।

यह जानकारी देते हुए अस्‍पताल के चिकित्‍सा अधीक्षक डॉ अजय शंकर त्रिपाठी ने बताया कि टीम द्वारा चिकित्सालय में प्रदान की जाने वाली मातृत्व सुविधाओं, बेबी फ्रेंडली एनवायरमेंट के मानकों का बारीकी से निरीक्षण किया चिकित्सकों, स्टाफ नर्सों एवं वार्ड आया का मां कार्यक्रम के बारे में जागरूकता, शिशु आहार संबंधी कानून का अनुपालन के बारे  साक्षात्कार किया, और साथ ही सभी प्रसूति माताओं का बेड टू बेड, प्रसव पश्चात 1 घंटे के अंदर स्तनपान, पोस्ट नेटल केयर एवं देखरेख की बारीकियों को परखा।

उन्‍होंने बताया कि निरीक्षण में सभी तरह के मानकों के पैरामीटर पर अस्पताल खरा उतरा। नर्सिंग केयर के लिए स्टाफ नर्स नीलम यादव एवम दीप्ति स्टाफ नर्स को सम्मानित भी  गया, टीम ने एसएनसीयू एवं केएमसी वार्ड का का भी निरीक्षण किया जिसमें उन्हें किसी प्रकार की कमी नहीं मिली, डॉ त्रिपाठी ने बताया की चिकित्सालय को एन क्यू ए एस एवं लक्ष्य इनिशिएटिव सर्टिफिकेशन प्राप्त हुआ है, दैनिक रूप से इस क्वालिटी विषय  पर नोडल अधिकारियो  से चर्चा होती रहती है। उन्‍होंनें कहा कि मातृ एवं शिशु मृत्यु दर  को कम करने के लिए सभी तरह के प्रयास किए जाते हैं और दैनिक प्रशासनिक राउंड के दौरान इनका अनुश्रवण भी किया जाता है। एम्स गोरखपुर की टीम द्वारा नोडल अधिकारी, चिकित्सालय प्रबंधक, लेबर रूम इंचार्ज नीलम यादव के द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen − 16 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.