Saturday , February 4 2023

केजीएमयू की उन्‍नति से देश आगे बढ़ेगा : योगी आदित्‍यनाथ

-केजीएमयू में एशिया की प्रथम पैथोजन रिडक्शन मशीन, नवनिर्मित वैस्कुलर सर्जरी विभाग तथा थोरेसिक सर्जरी विभाग का लोकार्पण किया मुख्‍यमंत्री ने

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि केजीएमयू की उन्‍नति से देश आगे बढ़ेगा, केजीएमयू ने न सिर्फ भारत बल्कि विश्‍व स्‍तर पर अपनी पहचान कायम की है। चिकित्‍सकों का कार्य सिर्फ इलाज करना ही नहीं, नयी-नयी रिसर्च करना भी है। हमें समय से दो कदम आगे रहना होगा।

मुख्यमंत्री योगी ने ये विचार आज केजीएमयू में एशिया के प्रथम पैथोजन रिडक्शन मशीन, नवनिर्मित वैस्कुलर सर्जरी विभाग तथा थोरेसिक सर्जरी विभाग का लोकार्पण के मौके पर ब्राउन हॉल में आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए व्‍यक्‍त किये। केजीएमयू में इस मशीन के आने से अब फेफड़ों के कैंसर के साथ ही नसों की बीमारी से पीडि़त लोगों के इलाज में आसानी होगी। उन्होंने कहा कि अभी तक इसके लिए मरीजों को संजय गांधी पीजीआई और एम्स जैसे संस्थानों में जाना पड़ता है, जहां मरीजों की लंबी वेटिंग रहती है।

उन्होंने ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग की सराहना करते हुए कहा कि चाहे डेंगू की बीमारी हो अथवा कोरोनावायरस महामारी, किसी भी प्रकार की बीमारी ने जब जब हमला किया तब तक ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग अपनी जिम्मेदारी से पीछे नहीं हटा। उन्होंने इसकी विभागाध्‍यक्ष डॉ तूलिका चंद्रा की प्रशंसा करते हुए कहा कि डॉ तूलिका ने विगत कई वर्षों से रक्त कोष के क्षेत्र में अनेक प्रशंसनीय कार्य किये हैं। उन्‍होंने कहा कि पैथोजन रिडक्शन मशीन से रक्त को संक्रमित होने से बचाया जा सकेगा जिससे गंभीर एवं ऑर्गन ट्रांसप्लांट के मरीजों को बहुत लाभ होगा। उन्होंने कहा कि नव निर्मित वैस्कुलर सर्जरी विभाग तथा थोरेसिक सर्जरी विभाग से ऑर्गन ट्रांसप्लांट के लिए मरीजों को अब अन्य स्थानों पर नहीं भटकना पड़ेगा, उनका ऑर्गन ट्रांसप्लांट केजीएमयू में ही हो सकेगा।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने दीप प्रज्‍ज्‍वलित कर पैथोजन रिडक्शन मशीन एवं नवनिर्मित वैस्कुलर सर्जरी विभाग तथा थोरेसिक सर्जरी विभाग का लोकार्पण किया। इस मौके पर उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक, राज्य मंत्री चिकित्सा शिक्षा मयंकेश्‍वर शरण सिंह, प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा आलोक कुमार के साथ ही केजीएमयू के कुलपति लेफ्टिनेंट जनरल डॉ बिपिन पुरी, केजीएमयू के वित्त अधिकारी विनय कुमार राय, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ एसएन संखवार, ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग की विभागाध्यक्ष एवं प्रोफ़ेसर डॉ तूलिका चंद्रा, थोरेसिक सर्जरी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ शैलेंद्र कुमार यादव, वैस्कुलर सर्जरी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ अम्‍बरीश कुमार सहित अनेक संकाय व विद्यार्थी भी उपस्थित रहे। समारोह की अध्यक्षता कुलपति ने की तथा संचालन का दायित्व डॉ तूलिका चंद्रा ने निभाया।

उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने भी अपने सम्‍बोधन में केजीएमयू की प्रशंसा करते हुए कहा कि किसी भी महामारी की रोकथाम में केजीएमयू ने अपना पूरा योगदान दिया। उन्‍होंने कहा कि एशिया के इस प्रथम पैथोजन रिडेक्‍शन मशीन, नवनिर्मित वैस्कुलर सर्जरी विभाग तथा थोरेसिक सर्जरी विभाग से ऑर्गन ट्रांसप्लांट के मरीजों को काफी लाभ होगा तथा रक्त को संक्रमण से सुरक्षित किया जा सकेगा। राज्य मंत्री मयंकेश्‍वर शरण सिंह ने भी कहा कि आज हुए लोकार्पण से आम जनमानस के इलाज में काफी फायदा होगा। अपने अध्‍यक्षीय सम्‍बोधन में कुलपति ने केजीएमयू द्वारा लोक हित में किए गए कार्यों के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि केजीएमयू को चिकित्सा के क्षेत्र में अभी और अधिक मेहनत करके देश के अन्‍य चिकित्सा संस्थानों में उच्च स्थान बनाना होगा।

प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा आलोक कुमार ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक तथा राज्य मंत्री चिकित्सा शिक्षा मयंकेश्‍वर शरण सिंह को कार्यक्रम में शामिल होने के लिए धन्यवाद दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

11 − 11 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.