Saturday , November 27 2021

नशे से दूर रहें युवा, विवेकानंद के आदर्शों पर चलें

राष्‍ट्रीय युवा दिवस पर लखनऊ विश्‍वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में आह्वान

 

लखनऊ। आज का युवा हमारे समाज के विकास के लिए कार्य कर रहा है। किसी भी देश या प्रदेश का विकास वहां के युवाओं द्वारा किए जा रहे बेहतरीन काम से ही संभव है। राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर स्वामी विवेकानंद के दिए आदर्शों पर चलकर हम अपने देश और प्रदेश के हित में काम कर सकते हैं। स्वामी जी ने बहुत ही छोटी उम्र में देश दुनिया में भारत का परचम फहराया था। आज स्वामी जी के आदर्शों पर चल कर हम भारत का नाम विश्व पटल पर आगे ले जा सकते हैं। राष्ट्रीय युवा दिवस के मौके पर उपस्थित सभी छात्र-छात्राओं से मैं अपील करना चाहूंगा की समाज में व्याप्त बुराइयों जैसे नशा आदि से दूर रहे। यूपी स्टेट एड्स कंट्रोल सोसायटी द्वारा सुई से नशा लेने वालों के लिए विशेष कार्यक्रम चलाए जाते हैं, जिनके माध्यम से हम सुई से नशा लेने वालों को एचआईवी संक्रमण से बचाने के लिए निरंतर प्रयासरत हैं, लेकिन हमारा यह प्रयास तभी रंग लाएगा जब आज का युवा नशे से दूरी बनाएगा।

 

ये बातें राष्ट्रीय युवा दिवस 12 जनवरी 2019 के मौके पर लखनऊ विश्वविद्यालय के मालवीय सभागार में आयोजित संगोष्ठी कार्यक्रम में यूपी स्टेट एड्स कंट्रोल सोसायटी के परियोजना निदेशक गौरव दयाल ने अपने सम्‍बोधन में कहीं।  कार्यक्रम का शुभारंभ गौरव दयाल और प्रभारी उप कुलपति प्रो0 आरके सिंह लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। इसके उपरांत राष्ट्रीय सेवा योजना लखनऊ विश्वविद्यालय छात्राओं द्वारा सरस्वती वंदना के साथ कार्यक्रम सत्र प्रारंभ हुआ। संगोष्ठी में लखनऊ विश्वविद्यालय के प्रभारी उप कुलपति आर के सिंह ने कहा कि लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राएं बहुत ही ऊर्जावान और मेहनती हैं। ये राष्ट्र निर्माण के लिए विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों में पूरी रुचि और तत्परता के साथ आगे आकर काम करते हैं। राष्ट्रीय युवा दिवस के मौके पर मैं अपने बच्चों को नशे से दूर रहकर प्रगति करने और दूसरों को भी प्रेरित करने की अपील करता हूं ।

 

आज के राष्ट्रीय युवा दिवस के कार्यक्रम में विशेष आकर्षण रहे लघु नाटिका के माध्यम से लोगों को एचआईवी एड्स और नशे के कुप्रभाव की जानकारी दी गई और खुद को सजग रखकर दूसरों को भी जागरूक करने की अपील की गई। लोगों को विषय से संबंधित जानकारी देने के उद्देश्य से परिसर में स्टॉल भी लगाए गए जहां पर प्रचार प्रसार सामग्री वितरित की गई। कार्यक्रम का संचालन राकेश द्विवेदी कार्यक्रम समन्वयक राष्ट्रीय सेवा योजना लखनऊ विश्वविद्यालय और आरजे अयाज के द्वारा किया गया। कार्यक्रम में फीवर एफएम प्रतिनिधि के रूप में आरजे रघु भी शामिल हुए और युवाओं से लाजवाब संवाद स्थापित किया।

 

 

इस संगोष्ठी मैं विशेष वक्ता के रूप में अनुराग पांडे पॉजिटिव स्पीकर द्वारा उपस्थित छात्र-छात्राओं को अपने जीवन के अच्छे बुरे लमहे के बारे में बताया गया और यह भी बताया कैसे एचआईवी उनके जीवन पर प्रभाव डाल रहा है। साथ ही उन्‍होंने लोगों को समाज से भेदभाव को दूर भगाने की अपील की। कार्यक्रम में मुख्य रूप से डॉक्टर शुभ्रा, अनुराग गुप्ता, एके सिंघल, रमेश श्रीवास्तव, डॉ प्रीति, अनुज दीक्षित, संजय मिश्रा आदि उपस्थित रहे।