Friday , January 28 2022

छूटे हुए स्कूली बच्चों को कीड़े की दवा खिलाने के लिए गंभीर पहल की सीएमओ ने

10 अगस्‍त के अभियान में निर्धारित लक्ष्‍य 16 लाख के मुकाबले साढ़े दस लाख बच्‍चों ने ही खायी थी ‘एल्‍बेन्‍डाजोल’

लखनऊ। पेट के कीड़ों से मुक्ति दिलाने के लिए बीती 10 अगस्‍त को स्‍कूलों में चले दवा खिलाने के अभियान में छूटे बच्‍चों को यह दवा एल्‍बेन्‍डाजोल खिलाने के लिए 17 अगस्‍त को मुख्‍य चिकित्‍सा अधिकारी डॉ नरेन्‍द्र अग्रवाल ने विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिये हैं। इसके तहत एएनएम की ड्यूटी लगायी गयी है। इस अभियान की पहल सीएमओ ने कीड़े की दवा खिलाने के शतप्रतिशत लक्ष्‍य पाने के लिए की है। आपको बता दें कि 10 अगस्‍त को दवा खिलाने के अभियान के दौरान 16 लाख बच्‍चों को दवा दी जानी थी लेकिन उस दिन कई कारणों के चलते करीब साढ़े दस लाख बच्‍चों ने ही दवा खायी थी।

 

डॉ नरेन्द्र अग्रवाल

कृमि मुक्ति के लिए शुक्रवार को मॉप अप राउंड की तैयारियां जोरों पर है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ नरेन्द्र अग्रवाल के निर्देश के अनुसार अब ए.एन.एम. को अपने कार्यक्षेत्र के हर स्कूल में जाकर यह सुनिश्चित करना होगा कि कीड़े की दवा एल्बेन्डाजोल पहुंची कि नहीं ? दवा की मात्रा पूरी है कि नहीं ? दवा खिलवाने के सम्‍बन्‍ध में कोई परेशानी तो नहीं ? आदि सवालों के जवाब लेंगी. इसके साथ ही दवा की उप्लब्धता नहीं होने पर ए.एन.एम. नजदीकी केंद्र से दवा दिलवायेंगी।

 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ नरेन्द्र अग्रवाल ने बताया कि मॉप अप राउंड में शतप्रतिशत सफलता के लिए यह एक कोशिश है. वहीं राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के महाप्रबंधक ने कहा कि सी.एम.ओ. लखनऊ की पहल सराहनीय है. यह व्यवस्था अन्य जिलों में लागू की जा सकती है. राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस 10 अगस्त को लखनऊ समेत पूरे प्रदेश में एल्बेंडाजोल की गोली खिलाई गई. एक वर्ष से 19 वर्ष की उम्र के जिन बच्चों को किसी कारणवश कीड़े की दवा नहीं खिलाई गई जा सकी. उन्हें 17 अगस्त को मॉप उप राउंड के तहत यह दवा खिलाई जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × 2 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.