Wednesday , November 30 2022

लंदन के समागम में गुरुसत्‍ता के विचारों ने 190 देशों के लोगों के मन के तारों को किया झंकृत

देव संस्‍कृति विश्‍वविद्यालय के प्रति कुलपति डॉ चिन्‍मय पंड्या ने प्रस्‍तुत किये पं श्रीराम शर्मा के विचार

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। देव संस्‍कृति विश्‍वविद्यालय के प्रति कुलपति डॉ चिन्‍मय पंड्या ने लंदन में आयोजित एक समायोजन में गायत्री परिवार के संस्‍थापक गुरु पं श्रीराम आचार्य भावपूर्ण विचारों को प्रस्‍तुत किया। गुरु के इन विचारों को सुनकर 190 देशों से उपस्थित लोगों के हृदय के तार झंकृत हो गये।

यह जानकारी देते हुए गायत्री परिवार के मीडिया प्रभारी उमानंद शर्मा ने बताया कि वैश्विक मंच पर वन यंग वर्ल्‍ड “One Young World” नामक संस्थान द्वारा लगभग 190 देशों से चुनिंदा 2000 से अधिक युवा प्रतिभाओ को एकत्रित कर एक समायोजन 22 से 25 अक्‍टूबर तक  लंदन में आयोजित किया गया, जिसमें विश्व के सिरमौर नेतृत्व को मार्गदर्शन के लिए आमंत्रित किया गया था।

उन्‍होंने बताया कि भारत की पावन भूमि का प्रतिनिधित्व करते हुए देव संस्‍कृति विश्‍वविद्यालय के प्रति कुलपति डॉ चिन्‍मय पंड्या ने इन चुनिंदा प्रतिभाओं के समक्ष गुरुसत्ता के भावपूर्ण विचार “मानव मात्र एक समान” विषय के द्वारा प्रस्तुत किये। उन्‍होंने बताया कि गुरुसत्ता के विचारों से न केवल उपस्थित प्रतिभागियों के हृदय झंकृत हुए अपितु समायोजन में मंचासीन वक्ताओं को भी प्रभावित किया। इस समायोजन में युवा प्रतिभाओं को सम्बोधित करने विविध सम्प्रदायों और धर्मपंथो के प्रतिनिधि उपस्थित रहे। इसमें भाग लेने के लिए 50 हजार से अधिक आवेदन आये थे लेकिन केवल चुने हुए 2000 प्रतिभागियों को स्थान प्राप्त हुआ जो गुरुसत्ता के विचारों का पान कर सके।