Friday , August 6 2021

केजीएमयू के कुछ शिक्षकों के खिलाफ जांच और काररवाई को मंजूरी

कार्यपरिषद की बैठक में लिये गये कई अहम फैसले

लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍व विद्यालय में आज हुई कार्य परिषद में अनेक निर्णय लिये गये हैं। इनमें जहां कई शिक्षकों के खिलाफ काररवाई को मंजूरी दी गयी है वहीं कुछ की नियुक्तियों के साथ ही एक आरोपी शिक्षक की पिछले दिनों हुई मौत के बाद उसके खिलाफ आरोपों की जांच को समाप्‍त करने का फैसला लिया गया।

 

कार्य परिषद की आज की बैठक के बारे में यूनिवर्सिटी की ओर से दी गयी जानकारी के अनुसार शनिवार को केजीएमयू की कार्य परिषद की बैठक बोर्ड रूम में सम्पन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता केजीएमयू के कुलपति प्रोफेसर एमएलबी भट्ट द्वारा की गई। इसमें लिये गये निर्णयों में डॉ आशीष वाखलू के विरुद्ध अनुशासनात्मक समिति द्वारा तैयार किए गए आरोप पत्र को कार्य परिषद द्वारा अनुमोदित किया गया।

 

विश्वविद्यालय द्वारा गठित अनुशासनात्मक रिपोर्ट एवं कार्य परिषद की सितंबर 2017 एवं 13 दिसंबर 2017 में डॉ नईम अहमद एवं डॉ ओपी सिंह, कम्युनिटी मेडिसिन विभाग के संबंध में लिए निर्णयों के अनुपालन में दोनों चिकित्सकों की वैयक्तिक प्रोन्नति की तिथियों को पुनर्निर्धारण को अनुमोदिन किया।

 

विश्वविद्यालय के फार्माकोलॉजी विभाग में प्रवक्ता/सहायक आचार्य (अनारक्षित-1) पद तथा प्रोफेसर ऑफ मेडिसिनल केमेस्ट्री एंड केमिकल फार्माकोलॉजी (नान मेडिकल) (अनारक्षित-1) के पद पर वर्ष 2013 में हुए साक्षात्कार के पश्चात चयन समितियों की संस्तुतियों पर अनुमोदन किया गया।

इसके अलावा माइक्रोबायोलॉजी विभाग के निलंबित चल रहे सह आचार्य डॉ केपी सिंह के विरुद्ध प्रचलित अनुशासनात्मक समिति द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट को कार्य परिषद द्वारा अनुमोदित किया गया।

पिछले दिनों डॉ शेखर टंडन की आकस्मिक मृत्यु के बाद उनके विरुद्ध प्रचलित अनुशासनिक जांच की कार्यवाही को कार्य परिषद द्वारा समाप्त किए जाने का अनुमोदन किया गया तथा साथ ही साथ कार्य परिषद द्वारा डॉ शेखर टंडन के समस्त सेवा संबंधी देयों के प्राथमिकता के आधार पर भुगतान किए जाने की संस्तुति दी गई।

डॉ संजीव मिश्रा, निदेशक एम्स जोधपुर को 7.8.2017 से छह वर्ष का बिना वेतन अवकाश के संबंध में चिकित्सा विश्वविद्यालय के अधिनियम की धारा 42 के आलोक में यथा आवश्यक संशोधन कराए जाने विषयक सचिव चिकित्सा शिक्षा अनुभाग-2 उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ के निर्देश के क्रम में कार्य परिषद द्वारा यथा आवश्यक संशोधन के लिए प्रकरण सक्षम स्तर पर प्रेषित करने के लिए अनुमोदित किया गया।

डॉ जमाल मसूद आचार्य एसपीएम विभाग एवं डॉ एसपी पटेल आचार्य एसपीएम विभाग के परस्पर वरिष्ठता के प्रकरण में ज्येष्ठता समिति रिपोर्ट को कार्य परिषद द्वारा अनुमोदित किया गया।

 

अधिष्ठाता छात्र कल्याण तथा सहायक अधिष्ठाता छात्र कल्याण को चिकित्सा विश्वविद्यालय परिनियमावली के प्रावधानों के अंर्तगत क्रमशः रुपये 4000 एवं रुपये 3000 मानदेय प्रदान करने के‍ लिए कार्य परिषद द्वारा अनुमोदन प्रदान किया गया।

 

पल्मोनरी एवं क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग में चिकित्सकों की कमी के दृष्टिगत अस्थाई रूप से कमी को पूरा करने के लिए संविदा प्रक्रिया के आधार पर संकाय सदस्यों की नियुक्ति को विश्वविद्यालय अधिनियम के प्रावधानों के अंर्तगत किए जाने को अनुमोदित किया गया।

 

सीएफएआर के अंतर्गत सृजित फोरेंसिक ओडोंटोलॉजी के पदों को फोरेंसिक मेडिसिन एंड टॉक्सिकोलॉजी विभाग में मर्ज किए जाने के संदर्भ में शासन के अनुमोदन के लिए प्रकरण शासन को संदभित करने के लिए कार्य परिषद द्वारा सहमति दी गई।

उत्तर प्रदेश शासन में हुई बैठक के क्रम में चिकित्सा विश्वविद्यालय के मानव अंग प्रत्यारोपण विभाग के अंतर्गत संचालित रीनल ट्रांसप्लांट को यूरोलॉजी विभाग तथा लि‍वर ट्रांसप्लांट को सर्जिकल गैस्ट्रोइंटोलॉजी विभाग में स्थांतरित करने के लिए कार्य परिषद द्वारा अनुमोदन प्रदान किया गया।

प्लास्टिक सर्जरी विभाग के अंर्तगत बर्न्‍स एवं रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी यूनिट के संचालन के लिए श्रमशक्ति की मांग संबंधी प्रस्ताव कार्य परिषद के समक्ष अनुमोदित किया गया।

समर्पण इंस्टीट्यूट ऑफ नर्सिंग एंड पैरामेडिकल साइंसेस को बीएससी नर्सिंग कोर्स के लिए स्थाई सम्बद्धता प्रदान किए जाने के लिए अनुमोदन प्रदान किया गया।

चिकित्सा विश्वविद्यालय में हॉस्पिटल बेस कैंसर रजिस्ट्री के सुचारु संचालन के लिए मानव श्रमशक्ति के सृजन के लिए शासन को प्रस्ताव प्रेषित करने के लिए अनुमोदन प्रदान किया गया।

चिकित्सा विश्वविद्यालय में दो नए गोल्ड मेडल PSYCHIATRY ALUMNI GOLD MEDAL और PROF. VINITA DAS GOLD MEDAL को प्रारम्भ करने के लिए अनुमोदन प्रदान किया गया।

 

चिकित्सा विश्वविद्यालय में रेडियोथेरेपी विभाग के लिए एक Low energy linear accelerator के क्रय करने के लिए शासन को प्रस्ताव प्रेषित करने के लिए अनुमोदन दिया गया। चिकित्सा विश्वविद्यालय के एमबीबीएस पाठ्यक्रम का New examination patern एमसीआई के Graduate medical regulation  2019 के अनुसार एम0बी0बी0एस0 छात्रों पर लागू किए जाने को अनुमोदित किया गया। डॉ पूनम किशोर आचार्य नेत्र विभाग के रिटायरमेंट के अनुरोध को कार्य परिषद द्वारा अनुमोदन प्रदान किया गया।

चिकित्सा विश्वविद्यालय में बायोमेडिकल इंजीनियरिंग के 22 पदों के सृजन के प्रस्ताव को कार्य परिषद द्वारा अनुमोदन प्रदान किया गया।

इसके अलावा चिकित्सा विश्वविद्यालय में केजीएमयू कम्यूनिटी ऑपथलमोलॉजी विभाग की स्थापना के लिए पदों के सृजन के प्रस्ताव को अनुमोदित किया गया। चिकित्सा विश्वविद्यालय के कॉलेज ऑफ नर्सिंग के संविदा संकाय सदस्यों (ट्यूटर/ असिस्टेंट प्रोफेसर) के वेतन में बढ़ोतरी को अनुमोदित किया गया।

इसके अलावा चिकित्सा विश्वविद्यालय में प्रतिवर्ष होने वाली सरस्वती पूजा के दृष्टिगत चिकित्सा विश्वविद्यालय में मां सरस्वती की मूर्ति की स्थापना को अनुमोदित किया गया।

इसके अतिरिक्त आज सम्पन्न हुई बैठक में चिकित्सा विश्वविद्यालय में प्रशासनिक कार्यो एवं चिकित्सकीय कार्यो के सुगम संचालन के लिएउ विश्वविद्यालय स्तर से गठित की गई समितियों एवं अन्य आदेशों से कार्य परिषद को अवगत कराते हुए अनुमोदन प्राप्त किया गया।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com