Thursday , August 11 2022

क्रान्तिकारी परिवर्तन कर चिकित्सा विज्ञान को नई परिभाषा दी डॉ हैनीमैन ने

पुण्यतिथि पर याद कर श्रद्धांजलि दी गयी होम्योपैथिक के जनक को

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी के होम्योपैथिक चिकित्सकों, शिक्षकों एवं छात्रों ने होम्योपैथी के जनक डा0 हैनीमैन की पुण्यतिथि पर उन्हें याद किया गया. गोमती नगर स्थित हैनीमैन चौराहा एवं नेशनल होम्योपैथिक मेडिकल कालेज में स्थित उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर  श्रद्धांजलि अर्पित की। माल्यार्पण करने वालों में डा0 अनुरुद्ध वर्मा, प्राचार्य डा0 हेमलता, डा0 रेनू महेन्द्रा, डा0 स्मिता विमल, डा0 शैलेन्द्र सिंह, डा0 अमित नायक, डा0 विजय पुष्कर, डा0 राजुल सिंह, डा0 बी0पी0 वर्मा, डा0 पंकज श्रीवास्तव, डा0 ए0पी0 दूबे, डा0 दुर्गेश चतुर्वेदी, डा0 ज्ञानेन्द्र राय, डा0 ए0के0 सिंह, डा0 नूतन शर्मा आदि प्रमुख थे।

 

इस अवसर पर होम्योपैथी साइंस कांग्रेस सोसायटी के तत्वावधान में शिवाजी लान इन्दिरा नगर में ‘चिकित्सा विज्ञान में डा0 हैनीमैन का योगदान’ विषय पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इसमें मुख्य वक्ता रिसर्च सोसायटी आफ होम्योपैथी के सचिव डा0 अनुरूद्ध वर्मा ने कहा कि बिना किसी साइडइफ़ेक्ट वाली मीठी गोलियों वाली होम्योपैथी की दवा बड़े-बड़े असाध्य रोग ठीक करने में सक्षम है. लेकिन इसका अभी खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में प्रचार-प्रसार न होने के कारण लाभ नहीं मिल पा रहा है.

 

उन्होंने कहा कि डा0 हैनीमैन ने चिकित्सा विज्ञान में क्रान्तिकारी परिवर्तन कर उसे नई परिभाषा दी है। उन्होंने कहा कि होम्योपैथी जनस्वास्थ्य की अपेक्षाओं एवं आकांक्षाओं को पूरा करने में पूरी तरह सक्षम है. उन्होंने कहा कि होम्योपैथी की विश्वसनीयता और गुणों को आम जनता तक पहुंचाना आवश्यक है. उन्होंने कहा कि सरकार होम्योपैथी के द्वारा कम व्यय में जनता को स्वास्थ्य की सुविधायें उपलब्ध करा सकती है। उन्होंने कहा कि होम्योपैथी अपेक्षाकृत कम खर्चीली, निरापद एवं रोगों को जड़ से समाप्त कर सम्पूर्ण स्वास्थ्य प्रदान करने वाली पद्धति है।

अतिथियों ने डा0 हैनीमैन के चित्र पर माल्यार्पण कर एवं दीप प्रज्ज्वलित कर संगोष्ठी का शुभारम्भ किया।  डा0 गजेन्द्र कुमार की अध्यक्षता में सम्पन्न संगोष्ठी को डा0 एस0डी0 सिंह, डा0 यू0बी0 त्रिपाठी, डा0 एफ0बी0 वर्मा, डा0 आशीष वर्मा, डा0 हर्षित कुमार, डा0 ए0एम0 सिंह, डा0 राजीव कुमार, डा0 कुलदीप वर्मा, डा0 राकेश बाजपेयी, डा0 स्फूर्ति सिंह आदि ने सम्बोधित किया। इस अवसर पर शिवाजी मार्केट इन्दिरा नगर में अरुण होम्यो क्लीनिक पर निःशुल्क होम्योपैथिक चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें डा0 लता वर्मा एवं डा0 अरुण प्रकाश द्वारा रोगियों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें औषधियां प्रदान की गयीं।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

six + seven =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.