Saturday , January 28 2023

ऑनलाइन देखकर नहीं, डॉक्‍टर से पूछकर करें त्‍वचा पर प्रोडक्‍ट का इस्‍तेमाल

मिड डर्माकॉन-2022′ के दूसरे दिन त्वचा से सम्बंधित बीमारियों व उत्पादों पर चर्चा

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। ‘इंडियन एसोसिएशन ऑफ डर्मेटोलॉजिस्ट्स, वेनेरोलॉजिस्ट्स और लेप्रोलॉजिस्ट्स’ द्वारा आयोजित ‘मिड डर्माकॉन-2022’ के दूसरे दिन त्वचा से सम्बंधित बीमारियों व उत्पादों पर डर्मेटोलॉजिस्ट्स ने अपने विचार रखे। ऑर्गनाइजिंग सेक्रेटरी डॉ. अमित मदान व साइंटिफिक सेक्रेटरी डॉ. सुमित गुप्ता ने बताया कि दूसरे दिन सफेद दाग, सोरायसिस, चर्म रोग के लिए आ रही नयी दवाइयों, शरीर पर चकत्ते, सोशल मीडिया पर बेचे जा रहे स्किन सम्बंधित उत्पाद, आनुवंशिक बीमारियों, फंगल इंफेक्शन, बच्चों में हो रहे नये-नये तरीके के फंगल इन्फेक्शन्स व नयी-नयी बीमारियों सहित स्किन टैन पर अलग-अलग राज्यों व देशों से आये डॉक्टरों ने अपने विचार रखे। 

एंटी एजिंग के लिए थ्रेड्स ट्रीटमेंट कारगर

मुंबई के नानावती हॉस्पिटल के डर्मेटोलॉजी विभाग की एचओडी डॉ. कल्पना सारंगी ने लखनऊ के बारे में बात करते हुए बताया कि मुझे यहां के गलौटी कबाब, हॉस्पिटैलिटी, चिकनकारी बहुत प्रिय है। साथ ही, उन्होंने थ्रेड्स ट्रीटमेंट के बारे में भी युवा डॉक्टरों को जानकारी दी। डॉ. कल्पना ने बताया कि थ्रेड्स ट्रीटमेंट का इस्तेमाल बढ़ती उम्र से चेहरे पर आने वाले प्रभाव, रैकनेस व स्किन लिफ्टिंग को रोकने के लिए इस्तेमाल में लाई जाती है। उन्होंने बताया कि 25 वर्ष से 65 वर्ष तक इस ट्रीटमेंट को लिया जा सकता है। यह न तो ज़्यादा खर्चीला है, न ही ज़्यादा वक़्त लेता है। ऑफिस टाइमिंग में भी आकर आसानी से करवा सकते हैं।

कॉन्फ्रेंस में चंडीगढ़ से आये डॉ. एम. सेन्धिल कुमारन ने नोसोलोजिकल स्टेटस, डॉ. अटिया यासीन ने कैमोफ्लाज टेक्निक्स, मैसूर से आई डॉ. चेतना एस जी और डॉ. पूजा मृग सहित बड़ी संख्‍या में डर्मेटोलॉजिस्ट्स ने अलग-अलग विषयों पर अपना प्रेजेंटेशन दिया, जिससे युवा डर्मेटोलॉजिस्ट्स ने सीख ली।

बता दें कि ‘इंडियन एसोसिएशन ऑफ डर्मेटोलॉजिस्ट्स, वेनेरोलॉजिस्ट्स और लेप्रोलॉजिस्ट्स’ का मुख्य उद्देश्य नयी-नयी बीमारियों पर रिसर्च करना और नये डॉक्टरों को उसकी जानकारी देना है।

डर्मेटोलॉजिस्ट डॉ. नीरज पांडे ने बताया कि त्वचा पर उन्हीं उत्पादों का इस्तेमाल करें, जो एक्सपर्ट्स द्वारा बताए गए हों। उन्होंने बताया कि आजकल सोशल मीडिया पर ऑनलाइन उत्पादों का चलन बड़ी तेजी से चल रहा है। कई ब्रांड्स अपने प्रोडक्ट का ख़ूब प्रचार भी करते हैं। मग़र, इन उत्पादों का इस्तेमाल बिल्कुल न करें। डॉक्टरों से सलाह लेकर ही अपनी त्वचा पर कुछ लगाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

nineteen + ten =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.