उपलब्धि : मां के गर्भाशय से बेटी ने दिया अपने शिशु को जन्‍म

एशिया में पहली बार हुआ ऐसा, पुणे में मां का गर्भाशय प्रत्‍यारोपित किया गया था बेटी को

                                                                           PC ANI

लखनऊ। पुणे के एक हॉस्पिटल में एक महिला के मां बनने का सपना उसकी मां के गर्भाशय के चलते पूरा हो सका है। जी हां, एशिया में ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी महिला ने ट्रांसप्‍लांट किये हुए गर्भाशय से बच्‍चे को जन्‍म दिया है। जिस महिला ने बच्‍चे को जन्‍म दिया है उसके उसकी मां का गर्भाशय प्रत्‍यारोपित किया गया था।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार महाराष्ट्र के पुणे के गैलेक्‍सी केयर हॉस्पिटल में ट्रांसप्लांट किए गर्भाशय से एक महिला ने एक शिशु को जन्म दिया है. जानकारी के अनुसार गुजरात निवासी मीनाक्षी ने तीन गर्भपात के बाद मां बनने का सपना ही छोड़ दिया था, लेकिन मेडिकल साइंस के चमत्कार ने उनकी खोई हुई उम्मीद वापस कर दी और उसकी झोली खुशियों से भर दी। डॉक्‍टरों ने मीनाक्षी की मां का  गर्भाशय मीनाक्षी में ट्रांसप्‍लांट कर दिया।

 

मीनाक्षी सिर्फ भारत ही नहीं, बल्कि एशिया की ऐसी पहली महिला हैं, जिन्होंने ट्रांसप्‍लांट हुए गर्भाशय से बच्चे को जन्म दिया है. गैलेक्सी केयर हॉस्पिटल के मेडिकल डायरेक्टर के अनुसार मीनाक्षी का तीन बार गर्भपात हो चुका था। इसके बाद मीनाक्षी के गर्भाशय ने काम करना बंद कर दिया था। बताया जाता है कि इसके बाद मई 2017 को उनमें उनकी मां का गर्भाशय ट्रांसप्लांट किया गया. इसके बाद ट्रांसप्लांट गर्भाशय में भ्रूण (embryo) ट्रांसफर किया गया, जिसके 32 सप्ताह बाद आज 18 अक्टूबर को मीनाक्षी ने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया.

 

उनका कहना है कि एशिया में यह पहला बच्चा है, जिसका जन्म ट्रांसप्लांट गर्भाशय से हुआ है. वहीं, मां बनने के बाद मीनाक्षी और उनके पति ने खुशी जाहिर की है. उन्होंने कहा कि हम इस बच्चे के जन्म से बेहद खुश हैं। हमको इस दिन का लम्बे समय से इंतजार था।