Wednesday , November 30 2022

ब्लड शुगर फास्टिंग की जांच के लिए होना चाहिये 10 से 12 घंटे का खाली पेट

समय पर दवा, खाना, सोना, जगना कर लें तो रहेगी डायबिटीज नियंत्रित

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। कृष्‍णा होलिस्टिक लाइफ स्‍टाइल के चेयरमैन व हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ राकेश सिंह ने कहा कि भारत में 7 करोड़ से ज्‍यादा लोग डायबिटिक हैं, इसकी एक बड़ी वजह लाइफ स्‍टाइल है, अगर लाइफ स्‍टाइल लोग ठीक कर लें तो इनमें 50 से 60 प्रतिशत लोगों की डायबिटीज नियंत्रित हो जायेगी। आजकल देखिये रेस्‍टोरेंट भरे रहते हैं, और अस्‍पताल भरे रहते हैं।

विश्‍व मधुमेह दिवस पर आईएमए भवन में आयोजित सेमिनार में उन्‍होंने कहा कि मेरा मानना है कि डायबिटीज के इलाज मे होलिस्टिक एप्रोच होनी चाहिये यानी जिसे जिस पैथी से लाभ पहुंचे उस पैथी से इलाज होना चाहिये, इसीलिए आज सेमिनार में आयुर्वेद और होम्‍योपैथी के भी चिकित्‍सकों को आमंत्रित किया गया है।

उन्‍होंने कहा कि छोटी-छोटी बातें हैं जिनका ध्‍यान रखना चाहिये। जैसे कि लोग खाली पेट शुगर टेस्‍ट कराते हैं, तो खाली पेट का म‍तलब 10 से 12 घंटे का खाली पेट होना चाहिये, जहां तक संभव हो सुब‍ह उठने पर बिस्‍तर पर ही फास्टिंग टेस्‍ट कराना चाहिये क्‍योंकि इसके बाद चलने-फि‍रने आदि के कारण रीडिंग सही नहीं आती है।

उन्‍होंने कहा कि आम व्‍यक्ति ही नहीं बल्कि 50 फीसदी चिकित्‍सक भी ऐसे हैं जिनकी लाइफ स्‍टाइल ठीक न रहने के कारण डायबिटीज नियंत्रण में नहीं रहती है। उन्‍होंने कहा कि समय पर दवा, समय पर खाना, समय पर सोना, समय पर जगना आदि पर ध्‍यान दें तो डायबिटीज नियंत्रित रहेगी। उन्‍होंने कहा कि आजकल बाहर खाने का फैशन बढ़ता जा रहा है, रेस्‍टोरेंट भरे रहते हैं फि‍र अस्‍पताल भरे रहते हैं। उन्‍होंने कहा कि लोग कार से चलते हैं फि‍र साइकिल चलाने जिम में जाते हैं।

भोजपुरी फास्‍ट फूड बाटी-चोखा खायें

आईएमए के पूर्व अध्‍यक्ष डॉ पीके गुप्‍ता ने कहा कि लोगों में फास्‍ट फूड खाने की आदत पड़ी हुई है, फास्‍ट फूड खाना है तो भोजपुरी फास्‍ट फूड बाटी-चोखा खायें, इसमें नुकसान नहीं है, बल्कि इसे खाने से प्रोटीन भी मिलेगा, फैट भी और कार्बोहाइड्रेट भी मिलेगा।

इसी खबर से जुड़ी ये खबरे भी पढ़ें

    1.भारत को टीबी मुक्‍त करना है तो देश को डायबिटीज फ्री करना आवश्‍यक
    2.गणेशजी के प्रसाद में मोदक के साथ वनस्‍पतियों के भी भोग का है डायबिटीज से रिश्‍ता
    3.सुबह का नाश्‍ता जरूर करें और चबा-चबा कर आधे घंटे में करें