100 से ज्‍यादा कोविड केस वाले जिलों में विशेष सावधानी बरतने के निर्देश

-मुख्‍यमंत्री ने उच्‍चस्‍तरीय बैठक में की मौजूदा स्थिति की समीक्षा

-योगी आदित्‍यनाथ ने भी लगवाया कोविड वैक्‍सीन का पहला टीका

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ कोविड-19 के नए स्ट्रेन के संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने और अधिक सतर्कता बरतने के निर्देश देते हुए कहा है कि सार्वजनिक स्थलों व कार्यक्रमों में 100  से अधिक लोग एकत्र न हों। उन्होंने लखनऊ, कानपुर नगर, प्रयागराज, वाराणसी तथा गोरखपुर में अतिरिक्त सतर्कता बरतने के साथ ही जिन जनपदों में कोविड-19  के 100  से अधिक केस हैं वहां विशेष सावधानी बरतने के निर्देश दिए हैं। आज ही योगी आदित्‍यनाथ ने डॉ श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) अस्‍पताल में कोविड वैक्‍सीन का पहला टीका लगवाया।

मुख्यमंत्री ने आज अपने आवास पर एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सभी प्रकार के रोगों के उपचार की प्रभावी व्यवस्था बनाए रखने के लिए कोविड एवं नॉन कोविड अस्पताल स्थापित किया जाए। मुख्यमंत्री ने एंबुलेंस सेवाओं को सुचारु ढंग से संचालित करने के निर्देश देते हुए कहा है कि कोविड मरीज के लिए इस्तेमाल की जाने वाली एंबुलेंस का उपयोग नॉन कोविड  मरीजों के लिए न किया जाए। उन्होंने यह भी सुनिश्चित करने को कहा है कि किसी भी मरीज को एंबुलेंस के लिए इंतजार न करना पड़े।

योगी आदित्यनाथ में कोविड अस्पतालों में पर्याप्त संख्या में बिस्तरों की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुए कहा है कि कोविड अस्पतालों तथा मेडिकल कॉलेजों में बेड्स की संख्या में वृद्धि की जाए। उन्होंने कहा कि कोविड अस्पतालों में चिकित्सकों, पैरामेडिकल एवं नर्सिंग स्टाफ, आवश्यक औषधियों, मेडिकल उपकरणों तथा बैकअप सहित ऑक्सीजन की सुचारु उपलब्धता उपलब्ध रहनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग का कार्य प्रभावी ढंग से किया जाए, कोविड पॉजिटिव व्यक्ति के अधिक से अधिक कॉन्टेक्ट को चिन्हित करते हुए ऐसे लोगों की जांच कराई जाए उन्होंने टेस्टिंग कार्य में और तेजी लाने के निर्देश देते हुए कहा कि प्रदेश में कोविड-19  की टेस्टिंग का कार्य पूरी क्षमता से संचालित किया जाए, किसी भी संदिग्ध केस में अनिवार्य रूप से आरटीपीसीआर टेस्ट किया जाए।

देखें वीडियो-यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने डॉ श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) अस्‍पताल में ली कोविड वैक्‍सीन की पहली डोज

मुख्यमंत्री ने कहा कि संक्रमण से बचाव के संबंध में लोगों को निरंतर जागरूक किया जाए इस कार्य में पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम का व्यापक रूप से उपयोग किया जाए सोशल डिस्टेंसिंग पर विशेष ध्यान दिया जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि लोग मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करें मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में निगरानी समितियां प्रभावी रूप से कार्य करें। बैठक में मुख्य सचिव आरके तिवारी, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश जी अवस्थी, अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव एमएसएमई एवं सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एसपी गोयल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास मनोज कुमार सिंह, प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा आलोक कुमार, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।