प्रकृति के साथ मनुष्य को जोडऩा ही योग : रमापति शास्त्री

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार के समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री ने कहा है कि स्वामी रामदेव ने योग को पूरी दुनिया के साथ जोडक़र एक माला में पिरोया जिससे आज सभी एक सूत्र में बंध चुके हैं। उन्होंने कहा कि 21 जून को मनाये जाने वाले योग दिवस में 200 देशों का जुडऩा स्वामी रामदेव के सपने को साकार करने जैसा है। उन्होंने कहा कि योग का शाब्दिक अर्थ है जोड़, यानी दो चीजों को जोडऩा। अर्थात हम कह सकते हैं कि प्रकृति के साथ
मनुष्य को जोडऩा ही योग है।

उत्तर प्रदेश योग महोत्सव में पुरस्कृत किये गये प्रतिभागी

यहां गोमती नगर स्थित इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में चल रहे उत्तर प्रदेश योग महोत्सव २०१७ के अंतिम दिन विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित मंत्री रमापति शास्त्री ने यह भी कहा कि योग को पूरी दुनिया में फैलाने का काम जहां स्वामी रामदेव ने किया वहीं योग दिवस मनाने की सार्थक पहल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने की, जिसे सभी देशों ने स्वीकारा। उन्होंने कहा कि योग जहां बीमारियों को ठीक कर रहा है वहीं नयी ऊर्जा का संचार भी कर रहा है। कायक्रम में उत्तर प्रदेश के विधि एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक ने भी बाबा रामदेव की तारीफ करते हुए कहा कि पूरी दुनिया में योग को फैलाकर स्वामीजी युग पुरुष बन गये हैं। उन्होंने कहा कि भारत में मोदी सरकार बनने के बाद पूरी दुनिया में भारत की चर्चा होती है।