Monday , July 22 2024

नर्सिंग स्‍टूडेंट्स को कुलपति की सीख, रखें दिल-दिमाग और हाथ का समन्‍वय

-केजीएमयू कॉलेज ऑफ नर्सिंग ने मनाया लैम्‍प लाइटिंग समारोह

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। एक कुशल नर्स बनने के लिए आवश्‍यक है कि अपने दिमाग, दिल और हाथों का एकीकरण एवं समन्यव करें। इन तीनों का समन्‍वय रहेगा तो प्रत्‍येक मरीज को आवश्‍यक सेवा अवश्‍य प्राप्‍त होगी। दिल, दिमाग और हाथ का समन्‍वय कुशलता की ऐसी चाभी है जिससे सफलता के हर दरवाजे के ताले खुल जाते हैं।  

यह बात केजीएमयू के कुलपति ले.ज.डॉ बि‍पिन पुरी ने 28 मार्च को यहां किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के कॉलेज ऑफ नर्सिंग में आयोजित लैम्‍प लाइटिंग सेरेमनी में सम्‍बोधित करते हुए कही। उन्‍होंने कहा कि दिल से आपको यह सोचना है कि मरीज के साथ हम कैसे प्रेमपूर्वक व्‍यवहार करें दिमाग से आपको यह सोचना है कि मरीज के लिए क्‍या सही है और क्‍या गलत, जो सही है वही करना है और हाथ से तात्‍पर्य आपकी कुशलता से है, जो भी कार्य आप करें उसमें कुशलता होना आवश्‍यक है, जब कुशलता होगी तो काम सफल अवश्‍य‍ होगा।

कार्यक्रम में बैच 2021 प्रथम वर्ष के नर्सिंग प्रशिक्षुओं ने फ्लोरेंस नाइटेंगल के मरीजों के प्रति लगाव सहानुभूति कर्तव्य को स्मरण किया तथा मां सरस्वती की वंदना के पश्चात हाथों में सभी ने जलते हुए दीपों को लेकर के प्रिंसिपल कॉलेज आफ नर्सिंग रश्मि पी जॉन के द्वारा अपने कर्तव्यों एवं उत्तरदायित्व को निर्वहन करने की शपथ ग्रहण की।

मुख्य अतिथि के रूप में आईएएस सेक्रेट्री ऑफ मेडिकल एजुकेशन उत्तर प्रदेश आलोक कुमार ने सभी प्रशिक्षुओं को आशीर्वाद एवं उनके उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दीं। डीन नर्सिंग प्रोफेसर अपजित कौर ने कॉलेज की उपलब्धियां एवं संचालित हो रहे कोर्सों के बारे में रिपोर्ट कार्ड के माध्यम से सभी को अवगत कराया।

इस कार्यक्रम के दौरान विभिन्न कॉलेजों के फैकेल्टी, प्रिंसिपल सहित लगभग 200 से अधिक सदस्य मौजूद रहे। स्नातक एवं परास्नातक परीक्षा कार्यक्रम में मेधावी रहे छात्रों को पुरस्कृत किया गया। FICCI FLO लेडी ऑर्गेनाइजेशन के द्वारा हाई स्कोरर पुरस्कार के रूप में मिस मानसी, मिस स्नेहा द्वितीय वर्ष की छात्राओं को सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर प्रो-वॉइस चांसलर प्रोफेसर विनीत शर्मा, डीन एकेडमिक प्रोफ़ेसर  उमा सिंह, चीफ मेडिकल सुपरिंटेंडेंट प्रोफेसर एस.एन. संखवार, वॉइस डीन नर्सिंग प्रो पुनीता मानिक, चीफ प्रॉक्टर डॉ क्षितिज श्रीवास्तव भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.