Sunday , July 14 2024

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य की नीतियों के निर्धारण में चिकित्सकों की भागीदारी भी सुनिश्चित की जानी चाहिए

-भाजपा चिकित्सा प्रकोष्ठ ने किया चिकित्सकों का सम्मान

सेहत टाइम्स
लखनऊ।
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए नीति निर्धारण के समय चिकित्सक की भागीदारी भी सुनिश्चित की जानी चाहिए। क्योंकि इसकी बड़ी वजह है कि चिकित्सकों की राय भी जब नीति निर्धारण में शामिल होगी तो चिकित्सकों को मरीज हित में अपना कार्य करने के लिए अनुकूल वातावरण मिल सकेगा।


ये वे विचार हैं जो केन्द्र सरकार के 8 वर्ष पूरे होने के मौके पर लखनऊ महानगर भाजपा के चिकित्सा प्रकोष्ठ द्वारा आयोजित सम्मान समारोह के मौके पर उपस्थित चिकित्सकों ने व्यक्तकिये। प्रकोष्ठ के संयोजक डॉ शाश्वत विद्याधर की अध्यक्षता में आयोजित इस समारोह में मुख्य अतिथि भाजपा लखनऊ महानगर के अध्यक्ष मुकेश शर्मा ने केंद्र सरकार की आठ वर्ष की उपलब्धियों के बारे में जानकारी देते हुए चिकित्सार स्वास्थ्य, सड़क, बिजली, उज्ज्वला योजना व दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्यबीमा योजनाआयुष्मान भारत, कोविड प्रबंधन, कोविड वैक्सीन निर्माण जैसी उपलब्धियों के बारे में बताया। उन्होंंने कोविड काल में डॉक्टरों द्वारा अपनी जान की परवाह किये बिना जिस तरह अपने कर्तव्यों का निर्वहन किया गया, उसके लिए उनकी भरपूर प्रशंसा की।


विशिष्ट अतिथि विधान परिषद सदस्य इंजी अवनीश कुमार सिंह ने चिकित्स्कों को भगवान का दर्जा देते हुए कहा कि इतनी संख्या में कार्यक्रम में आये चिकित्सकों को एक साथ देखकर मैं अपने को धन्य मान रहा हूं कि मुझे एक साथ इतने भगवानों के दर्शन हुए। उन्होंंने कहा कि कोविड काल में डॉक्टरों ने जिस प्रकार अपने कार्य को अंजाम दिया वह एक सैनिक की भांति था, जिस तरह सीमा पर जंग लड़ रहे सैनिक को नहीं पता होता है कि कौन सी गोली किस तरफ से आकर उसे लग सकती है उसी प्रकार कोविड काल में किस मरीज से संक्रमण डॉक्टर को लग जाये इसकी परवाह न करते हुए डॉक्टरों ने पूरे सेवा भाव से अपना कार्य किया। उन्होंने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि अगर डॉक्टरों के ऊपर किसी प्रकार का कोई अत्या‍चार होगा तो भाजपा का चिकित्सा प्रकोष्ठ चिकित्सक के साथ खड़ा दिखायी देगा, और जब चिकित्सा प्रकोष्ठ आपके साथ खड़ा होगा तो पूरी भाजपा आपके साथ नजर आयेगी।

अतिविशिष्ट अतिथि महानगर भाजपा के मंत्री त्रिलोक अधिकारी ने कहा कि चिकित्सा प्रकोष्ठ से बड़ी संख्या में चिकित्संकों को जोड़ने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि हाल के वर्षों में जिले, जिले में विधानसभा, विधानसभा में ब्लॉक और ब्लॉक में मंडल स्तर तक चिकित्सा प्रकोष्ठ में हमारे पास संयोजक के रूप में चिकित्सक मौजूद हैं।


भाजपा अवध क्षेत्र के सह संयोजक डॉ वैभव खन्ना ने कहा कि मेरा सरकार से यही अनुरोध है सीएमओ स्तर पर तथा अन्य स्तर पर चिकित्सा क्षेत्र के लिए सरकार द्वारा जो कमेटियां गठित की जाती हैं उनमें चिकित्सकों की भी भागीदारी हो क्योंकि इन कमेटियों में जब चिकित्स‍क की भागीदारी होगी तो वे अपनी समस्या के अनुसार राय दे सकेंगे। उन्होंने निजी क्षेत्र में चल रहे कुछ नर्सिंगइंस्टीट्यूट से निकलीं नर्स की काबिलियत पर प्रश्न चिन्ह लगाते हुए कहा कि ऐसी नर्सें हैं जो इंजेक्शन तक नहीं लगा सकतीं। उन्होंने कहा कि निजी क्षेत्र के मेडिकल कॉलेजों, पैरामेडिकल प्रशिक्षण केंद्रों के संचालन में मानकों को पूरा करने पर सख्त नजर सरकार को रखनी होगी ताकि वहां से निकलने वाले लोग काबिल हों और मरीजों की सही सेवा कर सकें न कि उनकी जिन्दगी के साथ खिलवाड़।


डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) अस्पताल के निदेशक डॉ आनंद ओझा ने चिकित्सकों का सम्मान करने के लिए चिकित्सकों की ओर से धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि सरकार योजनाओं को बनाते समय भी चिकित्सकों अपनी बात रखने का मौका दे, क्‍योंकि चिकित्सा क्षेत्र की समस्याओं के बारे में जितना नजदीक से डॉक्टर देखता है, उतना दूसरा कोई नहीं। उन्होंने कहा कि हमारा जो सिस्टम बना है वह डॉक्टर को खुलकर कार्य करने की आजादी नहीं देता है। उन्होंने कहा कि जैसा कि आपका क्षेत्र विधायिका है, हमारा क्षेत्र कार्यपालिका है तो मेरा यह निवेदन है कि विधायिका के क्षेत्र में चिकित्सकों की उपस्थिति भी सुनिश्चित करें ताकि नीति निर्धारण में चिकित्सकों की भी राय ली जा सके।


ज्ञात हो केन्द्र सरकार के 8 वर्ष पूरे होने पर भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश द्वारा लिए गये 10 अभियान में 9 वां अभियान ” स्वास्थ्य कर्मियों का सम्मान समारोह ” चिकित्सा प्रकोष्ठ भाजपा उत्तर प्रदेश द्वारा आयोजित किया गया। लखनऊ महानगर में यह कार्यक्रम सभी विधान सभाओं में आयोजित हुआ। लखनऊ में मुख्य कार्यक्रम भाजपा लखनऊ महानगर कार्यालय बी एन रोड कैसरबाग में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में चिकित्सा प्रकोष्ठ भाजपा अवध क्षेत्र संयोजक डॉ.हिमांशु सेठी, अवध क्षेत्र सहसंयोजक डॉ वैभव खन्ना, लखनऊ सहसंयोजक डॉ एस के सिंह भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम मे पूर्व अध्यक्ष आईएमए लखनऊ एवं उत्तर प्रदेश मेडिकल काउंसिल मेंबर डॉ पी के गुप्ता, अध्यक्ष आईएमए लखनऊ डॉ मनीष टंडन, रेडियोलॉजिस्ट डॉ आर के गुप्ता, लेडीज फिजिशियन डॉ वीना गुप्ता, निदेशक सिविल अस्पताल डॉ आनंद ओझा, लोकबंधु अस्पनताल के चिकित्सात अधीक्षक डॉ अजय शंकर त्रिपाठी, डॉ ए के गोयल, डॉ अरविंद दुबे पीडियाट्रिशियन, डॉ रश्मि चतुर्वेदी पैथोलॉजिस्ट, डॉ बी एन सिंह पूर्व डायरेक्टर होम्योपैथ, डॉ संतोष श्रीवास्तव, बलरामपुर अस्पताल, डॉ चित्रा सोनकर स्त्री रोग विशेषज्ञ डफरिन अस्पताल, डॉ हिमांशु सेठी डेंटल सर्जन, डॉ वैभव खन्ना प्लास्टिक सर्जन, डॉ शाश्वत विद्याधर पैथोलॉजिस्ट व जनरल फिजिशियन, डॉ एस के सिंह होम्योपैथिक फिजिशियन, डॉ रावेंद्र सिंह, डॉ जी पी सिंह, डॉ शशिन गुप्ता, डॉ एन बी सिंह पल्मोनोलॉजिस्ट, डॉ अवधेश द्विवेदी, डॉ श्वेता श्रीवास्तव स्त्री रोग विशेषज्ञ एवं प्रसव चिकित्सक एस आर अस्पताल, डॉ धीरेंद्र अवस्थी, डॉ इरशाद निदेशक, डॉ एस रवि सिंह, डॉ अनिल सिंह, डॉ अजय प्रताप सिंह, डॉ धर्मराज पटेल, डॉ अजय कुमार सिंह, डॉ नवीन तिवारी, डॉ मयंक शुक्ला, डॉ शांताराम, डॉ संजय सिंह, डॉ सी पी गौड़, डॉ बी एस नेगी, डॉ संदीप गौर, सर्वेश एवं अन्य चिकित्सकगण व स्वास्थ्यकर्मियों को सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.