Monday , March 27 2023

यूपी के 15 जिलों में कोरोना वायरस प्रभावित क्षेत्र 15 अप्रैल तक पूरी तरह सील किये गये

-किराना की दुकानें व सब्‍जी मंडी भी नहीं लगेगी, सामान की डिलीवरी घर पर ही होगी

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो 

लखनऊ। कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ चल रही जंग में चल रहे लॉकडाउन के बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने घोषणा की है कि जिन 15 जिलों में कोरोना वायरस संक्रमित मामले ज्यादा निकले हैं, उन जिलों में प्रभावित क्षेत्रों को पूरी तरह सील करने के आदेश दिये गये हैं। इन क्षेत्रों में किराना की दुकानें और सब्‍जी मंडी भी नहीं लगेगी, लोगों को आवश्‍यक वस्‍तुओं की सप्‍लाई होम डिलीवरी के माध्‍यम से सुनिश्चित करने के आदेश दिये गये हैं।

मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने आगरा, लखनऊ, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, कानपुर नगर, वाराणसी, शामली, मेरठ, बरेली, बुलंदशहर, बस्ती, फिरोजाबाद, सहारनपुर, महाराजगंज एवं सीतापुर जिलों से संबंधित मंडलायुक्त, जिलाधिकारी, पुलिस आयुक्त, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षक को भेजे पत्र में कहा है कि उच्च स्तरीय समीक्षा में यह पाया गया है कि आपके जनपदों में कोविड-19 का लोड अत्यधिक है, इसलिए इन जनपदों में लॉकडाउन व्यवस्था को पूरी तरह सुदृढ़ करते हुए प्रभावित क्षेत्रों को पूरी तरह सील कर दिया जाए।

पत्र में कहा गया है कि जिलों में निर्गत किए गए पासों की फि‍र से समीक्षा कर ली जाये तथा अनावश्यक पासों को निरस्त कर दिया जाए। प्रभावित क्षेत्रों में आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी सुनिश्चित की जाए तथा दुकानों अथवा सब्जी मंडी को भी न खोला जाए ताकि सोशल डिस्टेंस एवं लॉकडाउन का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित हो सके।

इन क्षेत्रों में घरों की जांच करते हुए सैनिटाइजेशन किया जाए, आवश्यक वस्तुओं से संबंधित स्थानों के कार्मिकों को जिनका आना-जाना है उन्हें भी अलग-अलग वाहनों के स्थान पर पूल वाहनों के माध्यम से लाने की व्यवस्था की जाए। इसके साथ ही चिकित्सा स्वास्थ्य एवं अन्य आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति में लगे व्यक्तियों के अतिरिक्त अन्य किसी व्यक्ति को बाहर ना निकलने दिया जाए एवं उन्हें घर पर ही रहने के लिए कहा जाए।