Sunday , November 28 2021

बिहार-झारखंड में प्रथम एटीएलएस कोर्स में प्रशिक्षण देगी केजीएमयू की टीम

-केजीएमयू के लिए गर्व का मौका, डॉ विनोद जैन के नेतृत्‍व में छह सदस्‍यीय टीम पटना पहुंची  

-18 से 20 अक्‍टूबर तक पटना के इंदिरा गांधी इंस्‍टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में होगा प्रशिक्षण सत्र

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। विश्‍व ट्रॉमा दिवस पर किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍वविद्यालय को एक और उपलब्धि हासिल होने जा रही है। केजीएमयू के इंस्टीट्यूट ऑफ स्किल्स के अंतर्गत एडवांस ट्रॉमा लाइफ सपोर्ट (एटीएलएस) का प्रशिक्षण देने वाली केजीएमयू की टीम को बिहार झारखंड के प्रथम एटीएलएस कोर्स के प्रशिक्षण के लिए आमंत्रित किया गया है। टीम के सदस्‍य आज सुबह लखनऊ से रवाना होकर पटना पहुंच गये हैं।

केजीएमयू इंस्‍टीट्यूट ऑफ स्किल्‍स के निदेशक डॉ विनोद जैन ने बताया कि इंदिरा गांधी इंस्‍टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (आईजीआईएमएस) पटना में 18 से 20 अक्‍टूबर, 2021 तक बिहार-झारखंड के प्रथम एटीएलएस कोर्स की शुरुआत हो रही है। इसमें केजीएमयू की टीम को कोर्स का प्रशिक्षण कराने के लिए आमंत्रित किया गया है। डॉ विनोद जैन ने बताया कि केजीएमयू की एटीएलएस प्रशिक्षण कराने वाली टीम में कोर्स डाइरेक्‍टर डॉ विनोद जैन के साथ ही डॉ समीर मिश्रा, डॉ विकास सिंह, डॉ हेमलता, डॉ यादवेंद्र धीर के अलावा पाठ्यक्रम समन्‍वयक शालिनी गुप्‍ता शामिल हैं।  

उन्‍होंने कहा कि विश्‍व ट्रॉमा दिवस पर केजीएमयू की टीम द्वारा पटना इंस्‍टीट्यूट में इस तरह का कोर्स की शुरुआत कराना हमारे लिए भी हर्ष का विषय है। इस अवसर पर कार्यक्रम में भारत में एटीएलएस प्रोग्राम के कोर्स डाइरेक्‍टर प्रो एमसी मिश्र को मुख्‍य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया है।

ज्ञात हो सड़क दुर्घटनाओं में घायल व्‍यक्ति को हॉस्पिटल पहुंचते ही किस तरह उपचार दिया जाना है, से सम्‍बन्धित अनेक छोटी-बड़ी बातें होती हैं जो मरीज के जीवन को बचाने, चोट की गंभीरता बचाने में सहायक होती हैं, इन्‍हीं सब बातों को सिखाने के लिए तीन दिन का एटीएलएस कोर्स यह कोर्स चिकित्‍सकों और मरीज के इलाज से जुड़े चिकित्‍सा कर्मियों को कराया जाता है।

ज्ञात हो केजीएमयू में एटीएलएस के लिए इंस्‍ट्रक्‍टर्स कोर्स यानी एटीएलएस कोर्स के साथ ही एटीएलएस सिखाने का भी का भी कोर्स कराया जाता है। ज्ञात हो अगस्‍त 2018 में  अमेरिकन कॉलेज ऑफ सर्जन्‍स (एसीएस) पर्यवेक्षकों की टीम केजीएमयू आयी थी, इस टीम ने भी केजीएमयू में दिये जाने वाले प्रशिक्षण की प्रशंसा की थी। अमेरिकन कॉलेज ऑफ़ सर्जन्स (एसीएस) पर्यवेक्षकों की टीम के कमेटी ऑफ़ ट्रॉमा अमेरिका की राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. किम जोसेफ, रीजनल कोऑर्डिनेटर अलेक्जेंड्रा, प्रोग्राम मैनेजर केटी स्ट्रांग ने केजीएमयू की एटीएलएस टीम की सरा‍हना की थी। उस समय केजीएमयू की टीम ने एक के बाद एक लगातार तीन इंस्‍ट्रक्‍टर वाले कोर्स कराकर रिकॉर्ड बनाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × four =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.