Tuesday , November 29 2022

दिल का मामला है, जरा दुरुस्‍त रखिये और जीवन का लुत्‍फ उठाइये

-विश्‍व हृदय दिवस पर खानपान से कैसे रखें अपने दिल को स्‍वस्‍थ, बता रही हैं मृदुल विभा

मृदुल विभा

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। ह्रदय हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। आज 29 सितम्‍बर है, आज विश्‍व हृदय दिवस यानी वर्ल्‍ड हार्ट डे है। इस मौके पर अगर हृदय को स्‍वस्‍थ रखने की बात करें तो इसमें डाइट अहम भूमिका निभाती है। दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए आप अपनी डाइट में हेल्दी फूड्स को शामिल कर सकते हैं, यह कहना है किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) की सीनियर डायटीशियन मृदुल विभा का।

मोटे अनाजों में साढ़े तीन गुना ज्‍यादा पोषणतत्‍व

पोषण धारा एसोसिएशन के माध्‍यम से लोगों में जागरूकता फैलाने वाली मृदुल विभा कहती हैं कि मोटे अनाज पोषक तत्वों के भंडार हैं। चावल और गेहूं की तुलना में इनमें 3.5 गुना अधिक पोषक तत्व पाए जाते हैं। मोटे अनाजों जैसे जौ, चना, जई, बाजरा, मक्‍का के आटे में बीटा-कैरोटीन, नाइयासिन, विटामिन-बी6, फोलिक एसिड, पोटेशियम, मैग्नीशियम, जस्ता आदि खनिज लवण और विटामिन भी प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इनमें फाइबर भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। सब्जियों के साथ ही सलाद का प्रयोग एवं फलों को छिलके समेत खाने से भी हमारे शरीर को फाइबर प्राप्त होता है, जो हमारी हदय संबंधी (कोलेस्ट्राल नियंत्रण (बीमारियों को दूर करने में अहम भूमिका निभाता है। फाइबर युक्त या रेशेदार भोजन से खाना अच्छी तरह पच जाता है।

उन्‍होंने बताया कि पोषण और स्वास्थ्य की दृष्टि से इसके फायदों के कारण ही इन्हें सुपरफूड भी कहा जाता है। इनका सेवन वजन कम करने, शरीर में उच्च रक्तचाप और अत्यधिक कोलेस्ट्राल को कम करने, हृदय रोग, मधुमेह जैसे रोगों के जोखिम को कम करने के साथ-साथ कब्ज और अपच से भी निजात दिलाने में मदद करता है।

मृदुल का कहना है कि  प्रोटीन्सयुक्त खाद्य पदार्थों, जैसे दालें, अंडा, मछली,पनीर, अंकुरित अनाज, को प्रतिदिन अपनी डाइट मे  सही मात्रा मे शामिल करें। उन्‍होंने बताया कि हरी सब्जियों को सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है। हृदय को हेल्दी रखने के लिए आप हरी सब्जियों को डाइट में शामिल कर सकते हैं। सब्जियां मौसम के अनुसार ही ले। कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम कर हार्ट को हेल्दी रखने में मदद कर सकती हैं। इसी प्रकार अमरूद, सेब, संतरा मौसमी जैसे फलों को न्यूट्रिएंट का खजाना कहा जाता है। इनमें पाए जाने वाले विटामिन, मिनरल और फाइबर शरीर के लिए फायदेमंद माने जाते हैं। इन फलों को डाइट में शामिल कर हृदय को स्‍वस्‍थ रखा जा सकता है।

सूखे मेवे

मृदुल बताती हैं कि ड्राई फ्रूट्स में सबसे अधिक बादाम और अखरोट का सेवन करना चाहिए. और अलसी, कद्दू, सूरजमुखी को प्रतिदिन के आहार में जरूर शामिल करना चाहिए  क्योंकि इनमें विटामिन और पोषक तत्व भूरपूर मात्रा में पाये जाते हैं, जो हृदय को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।

सही तेल का इस्‍तेमाल 

उन्‍होंने बताया कि सही तेल का इस्तेमाल बेहद आवश्यक हैं। तेल का उपयोग और आपके स्वास्थ्य पर उसका असर कई चीजों पर निर्भर करता हैं। जैसे-तेल को ज्यादा गर्म करके खाना नहीं पकाना चाहिए। इसका कारण यह है कि अधिक गर्म करने पर ये तेल अपने पौष्टिक गुणों को खो देते हैं और हानिकारक तत्व उत्पन्न करते हैं। हालांकि सूरजमुखी, नारियल, सरसों के तेल में अच्छी गर्मी सहनशक्ति होती है और इसे डीप-फ्राइंग के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

मृदुल विभा का कहना है कि मोटे तौर पर आपके लिए तेल तभी सेहतमंद होगा जब आप उसका सही खाना पकाने के लिए एक बार तेल का उपयोग करने के बाद तेल को दोबारा गर्म करने से बचें। खाना बनाते समय तेल को ज्यादा गरम करने से बचें। तेल को सूखी, ठंडी जगहों पर स्टोर करें, तेल को धूप से दूर रखें। तेल को ओवरस्टॉक न करें, समाप्ति तिथियों पर ध्यान दें और इसे 12 महीने से अधिक समय तक स्टॉक न करें।

मृदुल बताती हैं कि आहार में मिनरल का बहुत महत्वपूर्ण  है, जैसे पोटेशियम, कैल्शियम  मैग्नीशियम, आयरन। ये माइक्रो न्यूट्रिएंट हृदय को रेगुलेट करने मे मदद करते हैं। हदय को स्वस्थ  रखने के लिए कुछ बातों का ध्यान अवश्य रखे

भोजन सही समय पर लें

भोजन के साथ व्यायाम बहुत आवश्यक है

भोजन सही मात्रा में लें

अच्‍छी और पर्याप्‍त नींद स्‍वस्‍थ हृदय के लिए आवश्‍यक होती है।

दिल का मामला है, जरा दुरुस्‍त रखिये और जीवन का लुत्‍फ उठाइये

Leave a Reply

Your email address will not be published.

three × four =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.