Wednesday , February 28 2024

लखनऊ पर कोरोना का बड़ा कहर, पहली मौत, 31 नये रोगी

-केजीएमयू में भर्ती बुजुर्ग की हुई मौत, एक और निजी अस्‍पताल सील

लखनऊ कोरोना का कहर टूटने के बाद से राजधानी लखनऊ के लिए आज बड़ी खबर है यहां स्थित किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍वविद्यालय में भर्ती 64 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गयी है वहीं लखनऊ में एक ही दिन में 31 नये कोरोना पॉजिटिव केस का भी पता चला है, इनमें 28 केस सदर क्षेत्र में पूर्व में पाये गये पॉजिटिव केसों के संबंधी हैं, तथा तीन केस नजीराबाद रोड के पॉजिटिव पाये गये मरीज के संबंधी हैं। इस तरह लखनऊ में अब पॉजिटिव पाये गये केसेज की संख्‍या 75 पहुंच गयी है, इनमें से 6 ठीक हो चुके हैं।

नजीराबाद रोड वाले संक्रमित व्‍यक्ति जिसे पहले ट्रॉमा सेंटर में भर्ती किया गया था, उसकी बुधवार को दोपहर लगभग ढाई बजे के बाद मौत हो गयी है। मुख्‍य चिकित्‍सा अधिकारी द्वारा बताया गया है कि भारत सरकार स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय (ईएमआर डिवीजन) द्वारा निर्गत कोविड-19 गाइडलाइन ऑन डेथ बॉडी मैनेजमेंट के अनुसार अंत्येष्टि की कार्यवाही की जा रही है ।

केजीएमयू प्रवक्‍ता डॉ सुधीर सिंह द्वारा जारी सूचना में बताया गया है कि 64 वर्षीय रोगी को कई समस्याओं के साथ बीते शनिवार को भर्ती किया गया था। मरीज को मधुमेह की बीमारी थी। इसकी वजह से गुर्दे खराब हो गए थे। फेफड़ों में संक्रमण था। इनका कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया था। रोगी को आईसोलेशन वार्ड में वेंटीलेटर पर रखा गया था। पूर्ण प्रयास किये जाने के बाद भी इनको बचाया नहीं जा सका।

आपको बता दें कि इसी मरीज को पहले मेडवेल हॉस्पिटल और फि‍र चरक डायग्‍नोस्टिक सेंटर ले जाया गया था, इसके बाद केजीएमयू के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती किया गया था तथा रिपोर्ट आने के बाद ट्रॉमा सेंटर में हड़कम्‍प मच गया था और कैजुअल्‍टी विभाग तथा इमरजेंसी मेडिसिन विभाग को सेनिटाइज कराकर मरीज के सम्‍पर्क में आये डॉक्‍टरों और कर्मचारियों को क्‍वारेंटाइन किया गया था।

सीएमओ से जारी सूचना के अनुसार बुधवार को केजीएमयू से प्राप्त रिपोर्ट में 31पॉजिटिव रोगी (25 पुरुष 6 महिला )पाए गए। इनमें 28 के सदर क्षेत्र में पूर्व मैं पाए गये पॉजिटिव केस के संबंधी एवं 3 केस नयागांव पश्चिम़ नजीराबाद मैं पाए गए पॉजिटिव केस के संबंधी हैं। इसके अतिरिक्त डालीगंज हॉस्पिटल मौसम बाग डालीगंज लखनऊ में पूर्व में कोविड-19 से ग्रसित रोगी के भर्ती होने के कारण उक्त चिकित्सालय को बंद करने के लिए नोटिस जारी कर दी गई है तथा वहां पर कार्यरत समस्त चिकित्सा एवं पैरामेडिकल एवं अन्य कर्मचारियों को होम पर टाइम रहते हुए उनकी संख्या एवं सूची मांगी गई है ताकि भारत सरकार के दिशा निर्देश के अनुसार कार्रवाई की जा सके। इसके अतिरिक्‍त सर्विलांस एवं कांटेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर 150 लोगों का सैम्पल टीम द्वारा लिया गया तथा जांच के लिए केजीएमयू भेजा गया।

उन्‍होंने बताया कि भदेवां, बिल्लौचपुरा, राम नगर, तिलक नगर ,रकाबगंज, पीली कॉलोनी, तकिया आदि क्षेत्रों में  संक्रमण से मुक्ति के लिए 3 सदस्यीय 119 टीमों एवं  46 सुपरवाइजर द्वारा कार्य किया गया। प्रत्येक टीम में  एक स्वास्थ्य विभाग से एक पुलिस विभाग से तथा एक प्रशासन से है। टीम ने घर-घर जाकर लोगों को जागरूक किया। टीम द्वारा कुल 10722 घरों का भ्रमण किया गया तथा 52580 जनसंख्या को आच्छादित किया।