Tuesday , November 29 2022

सीएए को लेकर अल्‍पसंख्‍यकों को गुमराह करने की कोशिश की है कांग्रेस ने : रजनीश कुमार गुप्‍ता

-सुबह से लेकर रात तक गली-मुहल्‍लों में मतदाताओं तक पहुंचने में जुटे हैं लखनऊ मध्‍य से भाजपा प्रत्‍याशी


सेहत टाइम्‍स
लखनऊ। इन्‍हीं गलियों-मुहल्‍लों में मेरा जीवन गुजरा है, आप लोग नेता नहीं, बेटा चुनिये। हम आपके बीच हमेशा रहेंगे। यह अपील 174 मध्य विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी रजनीश गुप्ता लोगों से घर-घर जाकर सम्‍पर्क के दौरान कर रहे हैं।

रजनीश गुप्‍ता का कहना है कि जनसम्‍पर्क के दौरान जिस प्रकार जनता का समर्थन मिल रहा है, वह मुझे नयी ऊर्जा दे रहा है। सुबह जल्‍दी निकलकर देर रात तक रजनीश गुप्‍ता मतदाताओं के बीच पहुंचकर योगी सरकार की उपलब्धियां गिनाकर अपने लिए वोट की अपील कर रहे हैं।

शुक्रवार को रजनीश गुप्ता ने कैसरबाग, भातखंडे, धानुक बस्ती, पंजाबी टोला, माल ऐवन्यू, रामलीला ग्राउंड इत्यादि स्थानों पर जनसंपर्क किया। अपने जनसंपर्क के दौरान रजनीश गुप्ता ने एक बार फिर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि सीएए को लेकर लोगों, विशेषकर अल्पसंख्यकों को गुमराह करने की कोशिश करने का काम किया गया। उन्होंने कहा कि विपक्ष के रूप में हमें केवल विरोध के लिए विरोध करने की नहीं, बल्कि समालोचना करने की आवश्यकता है। ऐसे को लोगों को राजनीतिक लाभ के लिए गुमराह करना और अल्पसंख्यकों के मन में भय पैदा करना बंद करना चाहिए।

रजनीश गुप्ता ने कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी जी के नेतृत्व में चलने वाली भाजपा की सरकार में चिकित्सा, परिवहन, शिक्षा समेत अनेक क्षेत्रों में विकास कार्य हुये हैं। गरीबों को आवास देने वाली डबल इंजन की सरकार महीने में दो बार राशन भी फ्री दे रही है। उन्होंने सरकार के पक्ष में अधिक से अधिक मतों से 2022 के विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को विजयी बनाने का निवेदन किया। आज के जनसम्‍पर्क के दौरान शुभम गुप्ता, अंकित गुप्ता, मंडल अध्यक्ष आनंद पांडे, अनुसूचित मोर्चा के नगर अध्यक्ष विपिन सोनकर, नगर महामंत्री शैलू सोनकर, महामंत्री प्रशांत शुक्ला, महामंत्री आलोक शर्मा, अनूप बाजपेई, सोनू साहू, देवांश पांडे, अखिलेश शुक्ला, दीपक कुमार, सुभाष यादव आदि वरिष्ठ पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

5 − 3 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.