Saturday , February 4 2023

‘मिलीशिल्‍प’ के रूप में आपने बिजनेस वेंचर नहीं,  सोशल वेंचर शुरू किया है : वंदना सहगल

-मिलीशिल्‍प का उद्घाटन, हस्‍तनिर्मित उत्‍पाद केंद्र खोला गाइनीकोलॉजिस्‍ट डॉ मिलन खन्‍ना ने

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। गोमती नगर स्थित ‘‘मिलीशिल्प’’ का आज शुभारम्भ यूपीटीयू की डीन एवं प्रधानाचार्य वंदना सहगल द्वारा किया गया। इस मौके पर अपने सम्‍बोधन में उन्‍होंने कहा कि ‘मिलीशिल्‍प‘ के जरिये महिलाओं को प्‍लेटफॉर्म देकर आपने यह बिजनेस वेंचर नहीं बल्कि सोशल वेंचर शुरू किया है। उन्‍होंने कहा कि हस्‍तनिर्मित ड्रेसेज आजकल फैशन में भी है। मैं समझती हूं कि ये सभी को पसंद आयेंगे।

वंदना सहगल ने पूरी मिलीशिप टीम को बधाई देते हुए कहा कि महिला सशक्तिकरण की ओर उठाया गया यह एक कदम हैंडीक्राफ्ट के क्षेत्र में काम करने वाली महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त करेगा साथ ही कला और कलाकार को उचित स्थान दिलाने में भी मदद होगी। उन्‍होंने कहा कि मिलीशिप के रूप में हैंडलूम और हेंडीक्राफ्ट दोनों के कलाकारों को अपनी सृजनात्मकता दिखाने का मौका मिलेगा।

मिलीशिल्‍प की संस्‍थापक डॉ मिलन खन्ना, जो कि‍ स्वयं एक वरिष्ठ स्त्री रोग  विशेषज्ञ हैं,  ने बताया कि‍ मिलीशिल्प की आधारशिला महिलाओं को रोजगार के नए आयाम से जोड़ने के उद्देश्य से रखी गयी है। मिलीशिल्प के माध्यम से महिला सशक्तिकरण के एक नए मार्ग की शुरुआत की गयी है।

मिलीशिल्प की सह-संस्थापिका शिल्पी खन्ना एवं डॉ अरवीन तुलसी ने यह बताया कि मिलीशिल्प के माध्यम से इच्‍छुक महिलाओं को फ्यूजन हेंडीक्राफ्ट की ट्रेनिंग दी जायेगी,  वहीं उनके बनाये प्रोडक्ट्स की प्रेजेंटेशन, मार्केटिंग एवं सेल्स की जानकारी भी साझा की जायेगी। उन्‍होंने बताया कि मिलीशिल्प में महिलाओं की एक क्रिएटिव टीम के द्वारा बनायी साड़ियां,  ड्रेस मटेरियल, ज्वेलरी जैसे कई अन्य सामान पसंद की जा सकती हैं। जहां एक ओर महिलाओं को मिलीशिप सृजनात्मक कला से जोड़ रहा है वहीँ उनके लिए रोजगार के नए द्वार भी खोले जा रहे हैं। डॉ खन्ना ने बताया कि‍ इस प्रकार से महिलाओं को स्वावलम्बी बनाने की कोशिश भी की जा  रही है। फ्यूजन हेंडीक्राफ्ट के क्षेत्र में ‘‘मिलीशिल्प’’ ‘‘वन-स्टॉप-सलूशन’’ के रूप में काम करेगा। डॉ खन्ना अब तक स्वयं अनेक महिलाओं को फ्यूजन हेंडीक्राफ्ट की ट्रेनिंग दे चुकी हैं।

उद्घाटन के मौके पर केक कटिंग सेरेमनी भी हुई। इस मौके पर डॉ वैभव खन्‍ना,  डॉ आदर्श कुमार, डॉ रमा श्रीवास्‍तव, डॉ मनोज श्रीवास्‍तव सहित अनेक अतिथि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

19 − five =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.