लू से बचाव के लिए आवश्यक व्यवस्था करने के निर्देश

  1. लखनऊ। प्रदेश के अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अरुण कुमार सिन्हा ने प्रदेश के समस्त जिलाधिकारियों को एक पत्र भेजकर आमजन को प्रचंड गर्भी एवं लू से बचाव हेतु आवश्यक उपाय करने के निर्देश दिए हैं।
श्री सिन्हा ने अपने परिपत्र में कहा है कि लू एवं तेज गर्म हवाओं से होने वाली बीमारियों से जन-सामान्य को जागरूक किया जाए। साथ ही सार्वजनिक स्थलों पर पोस्टर तथा बैनर भी लगाना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों, अध्यापकों, सफाई व्यवस्था में लगे कर्मकारों, धार्मिक स्थानों, भट्ठों, कारखानों, हाट तथा खेत में काम करने व्यक्तियों को लू एवं तेज गर्म हवाओं से होने वाली बीमारियों से रोक-थाम के साथ ही उनके उपचार हेतु जागरूक किया जाए। उन्होंने कहा कि लोगों को दिन-प्रतिदिन लू एवं तापमान आदि की जानकारी उपलब्ध कराना भी सुनिश्चित किया जाए।
अपर मुख्य सचिव ने जनपदों में स्थित विद्यालयों एवं अन्य शैक्षिक संस्थाओं का संचालन प्रातः काल में सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि स्थानीय प्रशासन, गैर-सरकारी संगठन एवं जागरूक नागरिकों के माध्यम से राष्ट्रीय राजमार्गों, बस स्टैण्ड, धार्मिक व पर्यटन स्थलों तथा कार्य स्थलों आदि पर स्वच्छ पेयजल, सार्वजनिक छाॅव स्थल की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि सभी राजकीय चिकित्सालयों में लू एवं तेज गर्म हवाओं से प्रभावित व्यक्तियों के बेहतर उपचार की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।
श्री सिन्हा ने कहा कि लू एवं तेज गर्म हवाओं के कारण आग लगने के सम्भावना अधिक होती है। ऐसी दशा में चिकित्सालयों में स्थापित प्लास्टिक सर्जरी एवं बर्न यूनिट को और अधिक सक्रिय किया जाए, ताकि आग से प्रभावित लोगों के इलाज में किसी भी प्रकार की कठिनाई न होने पाए।
अपर मुख्य सचिव ने जिलाधिकारियों से यह भी अपेक्षा की है कि गर्मी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए तत्काल आवश्यक कदम उठाएं और शासन द्वारा लिए गए निर्णय का कड़ाई से अनुपालन भी सुनिश्चित कराएं।