Sunday , November 28 2021

नेत्र कुम्भ में एक लाख से ज्यादा लोगों को फ्री दिये जायेंगे चश्मे

-15 सीटर वाहन एवं एम्‍बुलेंस को स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने किया रवाना

-11 चिकित्‍सा केंद्रों एवं 100 बेड का आधुनिक अस्‍पताल भी कुंभ में बनाया गया

 

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा है कि कुम्भ में पवित्र संगम में स्नान करने लाखों लोग ऐसे भी आते हैं जो अपनी ग्रामीण एवं निर्धन परिस्थितियों के कारण अपनी आँख की जांच नहीं करा पाते हैं और न ही चश्मा ले पाते हैं। इसी के दृष्टिगत इस वर्ष होने वाले कुम्भ में नेत्र कुम्भ का भी आयोजन किया जा रहा है।

 

नेत्र कुम्भ में निःशुल्क नेत्र रोग चिकित्सा उपचार के लिए 15 सीटर वाहन एवं सचल चिकित्सा वाहन (एम्बुलेंस) को सिद्धार्थ नाथ सिंह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने कहा कि नेत्र कुम्भ में श्रद्धालुओं के लिए निःशुल्क नेत्र जाँच एवं जनरल ओपीडी की सुविधा सहित नेत्र रोगियों को 1 लाख से ज्यादा चश्मा भी निःशुल्क वितरित किया जाएगा। इस नेत्र कुम्भ का आयोजन भाउराव देवरस सेवा न्यास, सक्षम, नेशनल मेडिकोज आर्गेनाईजेशन, सर गंगाराम अस्पताल एवं रज्जू भैय्या न्यास के तत्वावधान में 12 जनवरी से 4 मार्च तक किया जाएगा।

श्री सिंह ने आज शोध संस्थान सरस्वती कुंज, निराला नगर, लखनऊ में कुम्भ 2019 में आने वाले श्रद्धालुओं को निःशुल्क नेत्र रोग चिकित्सा उपचार के लिए 15 सीटर वाहन एवं सचल चिकित्सा वाहन (एम्बुलेंस) को हरी झंडी दिखाकर रवाना करते हुए कहा कि कुम्भ में इस तरह की निःशुल्क स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराना एक सराहनीय प्रयास है। उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्य में सरकार के साथ-साथ ऐसी संस्थाओं द्वारा किये जा रहे कार्य गरीब श्रद्धालुओं के लिए वरदान साबित होंगे। उन्होंने कहा कि कुम्भ में आने वाले श्रद्धालुओं को चिकित्सीय असुविधा न हो, इसके लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा 11 सेंटर एवं 100 बेड के आधुनिक अस्पताल की व्यवस्था की गई है। उन्होंने अपील की कि प्रयागराज में सभी को आना चाहिए और इस बार आयोजित हो रहे ‘दिव्य एवं भव्य कुम्भ’ को अपनी आँखों से देखना चाहिए। नेत्र कुम्भ में नेत्र जांच के अतिरिक्त सामान्य ओपीडी का भी संचालन किया जाएगा। नेत्र जांच के लिए 18 यूनिट एवं जनरल ओपीडी की 4 यूनिट प्रतिदिन निःशुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराएंगे।

 

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इस नेत्र कुम्भ में देशभर से लगभग 400 से ज्यादा चिकित्सक एवं पैरामेडिकलकर्मी अपना योगदान देंगे। नेत्र कुम्भ में आने वाले गंभीर मरीजों के भर्ती के लिए इलाहाबाद मेडिकल कॉलेज, बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय एवं किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय में भर्ती कराया जाएगा। कुम्भ मेला क्षेत्र के अंतर्गत नेत्र कुम्भ शिविर सेक्टर-6, बजरंग दास मार्ग एवं जनरल ओपीडी सेक्टर-4, अपर संगम रोड पर लगाया जाएगा।