Monday , October 25 2021

दीर्घायु के लिये हमें आयुष को अपनाना होगा : डाॅ0 धर्म सिंह सैनी

50 शैय्यायुक्त एकीकृत आयुष चिकित्सालय, कल्ली पश्चिम, सरोजनी नगर का शिलान्यास

 

लखनऊ। राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) आयुष विभाग डाॅ0 धर्म सिंह सैनी ने कहा है कि दीर्घायु के लिये हमें आयुष को अपनाना होगा।

डाॅ0 धर्म सिंह सैनी ने यह बात
राष्ट्रीय आयुष मिशन के अंतर्गत 50 शैय्यायुक्त एकीकृत आयुष चिकित्सालय, कल्ली पश्चिम, सरोजनी नगर का शिलान्यास के मौके पर कही। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में स्वाती सिंह राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उपस्थित थीं एवं कार्यक्रम की अध्यक्षता कौशल किशोर सांसद मोहनलालगंज ने की।
डाॅ0 धर्म सिंह सैनी ने अपने सम्बोधन में कहा कि दीर्घायु के लिये हमें आयुष को अपनाना होगा। इस एकीकृत चिकित्सालय में आयुर्वेद, यूनानी, होम्योपैथ, योग एवं पंचकर्म चिकित्सा एक साथ लोगों को प्राप्त होगी। सरोजनी नगर क्षेत्र के कल्ली पश्चिम गाँव में स्थापित हो रहे इस चिकित्सालय से क्षेत्र की जनता को स्वास्थ्य से संबंधित सभी सेवायें प्राप्त होंगी। उन्होंने यह भी कहा कि वर्तमान जीवन शैली में अनियमित खान-पान के कारण अनेकों असाध्य बीमारियाँ पनप रही हैं जिनका स्थायी इलाज आयुष पद्धतियों में ही है। उन्होंने बताया कि आयुष आपके द्वार योजना के अंतर्गत पूरे प्रदेश में आयुष चिकित्सक निःशुल्क चिकित्सा शिविरों के माध्यम से गांव-गांव जाकर लोगों का उपचार कर रहे हैं तथा रोगों से बचाव की जानकारी उपलब्ध करा रहे हैं।
राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वाती सिंह ने इस चिकित्सालय की स्थापना कोे क्षेत्र के लिये एक वरदान के रूप में दिये जाने हेतु आयुष विभाग के प्रति आभार व्यक्त किया। वहीं सांसद मोहनलालगंज कौशल किशोर ने अपने अध्यक्षीय भाषण में कहा कि आयुष चिकित्सा पद्वतियाँ समय की मांग हैं और हमें इन्हें बढ़ावा देकर हम पूर्ण स्वास्थ्य के लक्ष्य की ओर अग्रसर हो सकते हैं। उन्होंने योग की प्रशंसा करते हुये कहा कि किसी भी चिकित्सा पद्धति को अपनाते हुये योग के माध्यम से अधिकाधिक स्वास्थ्य लाभ प्राप्त किया जा सकता है।
क्षेत्रीय आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी लखनऊ डाॅ0 शिव शंकर त्रिपाठी ने बताया कि इस एकीकृत आयुष चिकित्सालय का निर्माण कार्यदायी संस्था यू0पी0 स्टेट कंस्ट्रक्शन एण्ड इन्फ्रास्क्ट्रचर डेवलेपमेंट कारपोरेशन लिमिटेड, लखनऊ द्वारा किया जायेगा जिसे एक वर्ष के अंदर पूर्ण किये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। चिकित्सालय के निर्माण एवं साज-सज्जा आदि हेतु रूपये 9 करोड़ की धनराशि और मानव संसाधन हेतु रूपये 1.5 करोड़ की धनराशि का प्राविधान राष्ट्रीय आयुष मिशन द्वारा किया गया है।

इस अवसर पर निदेशक आयुर्वेद प्रो0 आर0आर0 चौधरी, क्षेत्रीय आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी लखनऊ डाॅ0 शिव शंकर त्रिपाठी, उपनिदेशक डाॅ0 सुधीर सिंह तथा कार्यदायी संस्था के पदाधिकारीगण, ग्राम प्रधान श्री संतलाल सहित बड़ी संख्या में क्षेत्र के निवासीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × five =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.