Tuesday , November 30 2021

मनोरंजन के साथ एनीमिया पर जानकारी का समावेश है ‘संवरती जिंदगी’

फि‍ल्‍म के निर्माण में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभायी है डॉ एके त्रिपाठी ने

 

राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार प्राप्‍त फि‍ल्‍म का लोकार्पण किया रीता बहुगुणा जोशी ने

 

लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय केजीएमयू के हेमेटोलॉजी के विभागाध्‍यक्ष डॉ एके त्रिपाठी द्वारा निर्मित एनेमिया रोग पर आधारित लघु फिल्म ‘संवरती जिंदगी’ का लोकार्पण आज शनिवार को केजीएमयू में उत्‍तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने किया। इस मौके पर एक संगोष्ठी का भी आयोजन किया गया। इस अवसर पर वरिष्ठ रंगकर्मी अनिल रस्तोगी भी मौजूद रहे।

 

 

गौरतलब है कि हाल ही में इस फिल्म को राष्ट्रीय फिल्म समारोह में सम्मानित किया गया था। इस फिल्म के निर्माण में हीमोटोलॉजी के विभागाध्यक्ष डॉ एके त्रिपाठी ने मुख्य भूमिका निभाई थी। इस अवसर पर रीता बहुगुणा जोशी ने एनेमिया रोग से बचाव पर अपनी बात रखते हुए कहा कि बदलती जीवन शैली में खानपान को संतुलित कर इस बीमारी से बचा जा सकता है। उन्‍होंने बताया कि संतुलित भोजन, साफ-सफाई हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में अहम भूमिका निभाता है। उन्होंने कहा कि इस बीमारी के प्रति जागरुकता के द्वारा ही इससे बचा जा सकता है।

 

इस अवसर पर प्रसिद्ध रंगकर्मी अनिल रस्तोगी ने डॉ एके त्रिपाठी से अनुरोध किया कि इसी प्रकार से वह अन्य बीमारियों के प्रति लोगों में जागरुकता लाने के उद्देश्य से और भी फिल्में बनाने में अपना सहयोग दें। उन्होंने इस फिल्म को केजीएमयू के लिए एक बड़ी उपलब्धि बताते हुए कहा कि ऐनेमिया के प्रति लोगों में जागरूकता लाना जरुरी है।

 

 

इस अवसर पर लघु फिल्म संवरती जिंदगी का प्रस्तुतिकरण भी किया गया। इस फिल्म में एनेमिया रोग से जुड़ी जानकारियों को बड़े ही रोचक एवं मनोरंजक तरीके से दर्शाया गया है।फिल्म में बेहद प्रभावशाली ढंग से इस बीमारी से बचने और इस के इलाज का तरीका बताया गया है। फिल्म संवरती जिंदगी का निर्देशन डॉ  राकेश निगम ने किया है और इसमें संगीत हेमचंद ने दिया है।