Wednesday , February 8 2023

लखनऊ में बने दुर्गा पंडाल ने बनाया विश्‍व में सबसे ऊंचा पंडाल होने का रिकॉर्ड

-136 फीट से ज्‍यादा ऊंचे और 6343 स्‍क्‍वॉयर फीट से ज्‍यादा क्षेत्रफल वाले पंडाल को तैयार करने में लगा लगभग डेढ़ माह का समय

सेहत टाइम्‍स  

लखनऊ। सामाजिक और सांस्‍कृतिक संस्‍था उत्‍सव द्वारा यहां जानकीपुरम में सेक्‍टर एफ स्थित दुर्गा पूजा पार्क में इस साल हुई दुर्गा पूजा में बनाये गये भव्‍य पंडाल ने विश्‍व का सबसे बड़ा और सबसे ऊंचा दुर्गा पंडाल होने का रिकॉर्ड बनाया है। वृंदावन में इस्‍कॉन द्वारा बनाये जा रहे चंद्रोदय मंदिर की तर्ज पर 6343.312 स्‍क्‍वॉयर फीट में बने इस पंडाल की ऊंचाई 136.646 फीट थी।

यह जानकारी देते हुए उत्‍सव के जनरल सेक्रेटरी व दुर्गा पूजा कमेटी-2022 के पूजा प्रभारी राकेश पाण्‍डेय ने बताया कि पंडाल को हाई रेंज बुक ऑफ वर्ल्‍ड रिकॉर्ड द्वारा विश्‍व का सबसे बड़ा और सबसे ऊंचा दुर्गा पंडाल का विश्‍व रिकॉर्ड बनाने का प्रमाणपत्र जारी किया है। उन्‍होंने बताया कि पंडाल बनाने में 30 से 40 फीट लम्‍बे और सीधे 10200 बांस लगे, उन्‍होंने बताया कि चूंकि इतनी ऊंचाई के बांस उत्‍तर प्रदेश में नहीं मिलते हैं इसलिए इन बांसों को आसाम से मंगाया गया था। पंडाल के निर्माण में 6,50,000 रनिंग फीट लकड़ी की बैटन लगीं। इसके अलावा 4300 मीटर कपड़ा, 5 क्विंटल पिन और 4100 पीस थर्माकोल के प्रयोग में लाये गये। उन्‍होंने बताया‍ कि 205 लीटर ब्रांडेड एक्रेलिक पेंट लगा।

उन्‍होंने बताया कि पूरा पंडाल का निर्माण संस्‍था के चेयरपर्सन सौरभ बंद्योपाध्‍याय की सलाह और मार्गदर्शन में मिदनापुर पश्चिम बंगाल से आये शिल्‍पकार आशिम मताया के प्रबंधन में उनकी 52 सदस्‍यीय टीम द्वारा किया गया। राकेश पाण्‍डेय ने बताया कि पंडाल का निर्माण 10 अगस्‍त को प्रारम्‍भ हुआ था और 27 सितम्‍बर को पूरा हुआ था।

श्री पाण्‍डेय ने बताया कि उत्‍सव संस्‍था के चीफ पैट्रन विधायक डॉ नीरज बोरा और विधान परिषद सदस्‍य पवन सिंह चौहान हैं, तथा पैट्रन डॉ गिरीश गुप्‍ता, अमित मुखर्जी व संजय कक्‍कड़ हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

15 − 5 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.