Monday , October 25 2021

एक प्रकरण पर हाईकोर्ट का फैसला आने तक उसी प्रकरण में दूसरे कर्मचारियों को भी न निकालें

-केजीएमयू में कर्मचारियों की सेवा समाप्ति पर कर्मचारी परिषद ने कुलपति से किया अनुरोध

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय कर्मचारी परिषद ने कुलपति से अपील की है कि‍ कुलसचिव द्वारा जिन मृतक आश्रित के रूप में नियुक्त कर्मचारियों की सेवा समाप्ति के आदेश दिए गए हैं,  उनके आदेश समान प्रकरण हाईकोर्ट में विचाराधीन रहने तक वापस लेकर उन्‍हें सेवा में रखने की अनुमति दें।

कर्मचारी परिषद के अध्यक्ष प्रदीप गंगवार और महामंत्री राजन यादव द्वारा लिखे गए पत्र में अनुरोध किया गया है कि जिस प्रकरण के संबंध में कर्मचारियों की सेवा समाप्ति के आदेश निर्गत किए गए हैं उसी तारतम्य में एक कर्मचारी का समान प्रकरण उच्च न्यायालय में विचाराधीन होने के कारण चारों कर्मचारियों पर कार्यवाही उचित प्रतीत नहीं होती है।

पत्र में अनुरोध किया गया है कि ये कर्मचारी बीते 15 वर्षों से वर्तमान कोविड-19 महामारी काल तक केजीएमयू में पूरे मनोयोग से मरीजों की सेवा करते आए हैं, ऐसे में समान प्रकरण में जब तक उच्च न्यायालय में एक कर्मचारी का मामला विचाराधीन है तब तक इन कर्मचारियेां की सेवा समाप्ति की कार्यवाही पर पुनर्विचार करते हुए इन्‍हें सेवा में वापस ले लिया जाए।