Thursday , January 20 2022

एमआर टीकाकरण में सहयोग न करने वाले 123 स्‍कूलों पर गिरेगी गाज

समीक्षा अभियान में खुली पोल, पहले भी 53 स्‍कूलों ने किया था असहयोग, नोटिस पाते ही आ गये थे लाइन पर

लखनऊ। 123 और स्‍कूलों को नोटिस जारी की जायेगी। ये वे स्‍कूल हैं जो मिजिल्‍स और रुबेला टीकाकरण अभियान में सहयोग नहीं दे रहे हैं। इस नोटिस में इन स्‍कूलों से पूछा जायेगा कि सरकारी अभियान में सहयोग न देने पर क्‍यों न आपके स्‍कूल की मान्‍यता रद कर दी जाये, यह जानकारी आज सीएमओ ऑफि‍स में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ नरेंद्र अग्रवाल की अध्यक्षता में सम्‍पन्‍न एमआर अभियान की समीक्षा बैठक में दी गयी।

 

आपको बता दें कि पूर्व में भी ऐसे 53 स्‍कूलों को एमआर टीकाकरण अभियान में सहयोग न देने के कारण ऐसी ही नोटिस दी जा चुकी है, हालांकि इन सभी स्‍कूलों ने नोटिस मिलते ही तुरंत अभियान में सहयोग किया और मान्‍यता रद होने से बचा ली। आज की बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि अभी 123 और स्कूलों की सूची प्राप्त हुई है जो मिजिल्स रूबेला  अभियान में सहयोग नहीं कर रहे हैं। इस सूची को जिला विद्यालय निरीक्षक को दिया जाएगा ,जिससे इन स्कूलों के विरुद्ध भी नोटिस जारी किया जा सके। बैठक में जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी बालेंदु कुमार द्विवेदी ने बताया कि अल्पसंख्यक शिक्षण संस्थानों से सहयोग प्राप्त करने के लिए मदरसा अल फिरदौस रहमानी दुबग्गा में 20 दिसंबर को प्रातः 10:00 बजे मदरसों के प्रबंधक तथा प्रधानाचार्य एवं क्षेत्र के प्रभावशाली व्यक्तियों की एक बैठक का आयोजन किया जाएगा।

 

इस बैठक में अल्पसंख्यक क्षेत्रों में एमआर अभियान में सहयोग करने के विषय में चर्चा की जाएगी। इसी प्रकार एक बैठक उसी दिन प्रातः 9:00 बजे शिया मदरसा नाज़मिया अरबी कॉलेज शिया पी जी कॉलेज के पीछे होगी। बैठक में जिला प्रतिरक्षण अधिकारी एम के सिंह ने बताया कि लखनऊ में अब तक लगभग 6,80,000 बच्चों को एम आर का टीका लगाया जा चुका है। उन्होंने बताया कि जिन विद्यालयों में दोबारा सत्र का आयोजन किया जा रहा है ,वे इसकी रिपोर्ट करते समय अपने लक्ष्य को दोबारा ना लिखें।  डॉ सुरभि त्रिपाठी ने जानकारी दी कि जिन 53 स्कूलों को पहले नोटिस जारी किए गए थे वह सभी हम सहयोग कर रहे हैं और उन्होंने अपने यहां एमआर अभियान की तारीख निर्धारित कर दी है। जो विद्यालय अभी तक एमआर अभियान के लिए तारीख नहीं दे रहे हैं, उनका नाम यूनिट प्रभारी शीघ्र मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दें जिससे उनका नाम भी जिला अधिकारी और जिला विद्यालय निरीक्षक को भेजा जा सके।

 

बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ नरेंद्र अग्रवाल ने बताया कि लखनऊ में अब तक लगभग 6 लाख 80 हजार बच्चों का टीकाकरण सफलतापूर्वक किया जा चुका है। उन्होंने आशा प्रकट की कि सभी शिक्षण संस्थान, धर्मगुरु तथा जनप्रतिनिधि इस अभियान में सहयोग करेंगे जिससे लक्ष्य को शत-प्रतिशत हासिल किया जा सके।