Wednesday , August 17 2022

योगी ने सिविल अस्‍पताल पहुंच कर श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी को दी श्रद्धांजलि, शुरू की वेंटीलेटर सेवा

-प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष के साथ ही मंत्रियों-अधिकारियों ने भी दी श्रद्धांजलि

-पीडियाट्रिक, इमरजेंसी, कार्डियक विभाग में शुरू की गयी है 12 वेंटीलेटर्स की सेवा

सेहत टाइमस ब्‍यूरो

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज मंगलवार को प्रात: 10.30 पर डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) अस्पताल पहुंच कर अस्पताल में स्थापित डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा पर डॉ मुखर्जी की पुण्यतिथि पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की। मुख्‍यमंत्री के साथ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, प्रदेश के जल शक्ति मंत्री डॉक्टर महेंद्र सिंह, प्रदेश के विधि मंत्री बृजेश पाठक, चिकित्सा स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी, अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद एवं जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश के साथ ही चिकित्सालय के निदेशक एवं प्रमुख अधीक्षक डॉ डीएस नेगी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर नरेंद्र अग्रवाल एवं चिकित्सालय के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों ने डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर अपनी श्रद्धांजलि दी।

इस मौके पर अस्‍पताल द्वारा शुरू की गयी वेंटीलेटर सेवा का उन्होंने फीता काटकर शुभारंभ किया,  मुख्‍यमंत्री ने अस्‍पताल का निरीक्षण भी किया तथा मरीजों से हालचाल भी लिये। उन्‍होंने बेहतर चिकित्‍सा सुविधा उपलब्‍ध कराने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री के साथ ही चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह व विधि मंत्री बृजेश पाठक ने भी अस्पताल की विभिन्न इकाइयों में शुरू की गई वेंटिलेटर सेवा का फीता काटकर शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने वेंटिलेटर सेवा शुरू होने पर प्रसन्नता जाहिर की।

अस्पताल के निदेशक एवं प्रमुख अधीक्षक डॉ डीएस नेगी ने मुख्यमंत्री को अस्पताल में शुरू हो रही वेंटिलेटर सेवा की रूपरेखा के बारे में पूरी जानकारी दी साथ ही अस्पताल में किए जा रहे दूसरे चिकित्सकीय कार्यों के बारे में भी अवगत कराया। अस्पताल में 12 वेंटिलेटर की सुविधा शुरू की गई है, इनमें पीडियाट्रिक विभाग में 8, इमरजेंसी इकाई में दो तथा आईसीसीयू में दो वेंटीलेटर शामिल हैं।

निदेशक ने मुख्यमंत्री के प्रति कृतज्ञता व्‍यक्‍त करते चिकित्सालय में आने वाले समस्त मरीजों की अपनी पूरी निष्ठा और लगन से चिकित्सा सेवा प्रदान करने का संकल्प लिया। इस अवसर पर चिकित्‍सालय के डॉक्‍टर, कर्मचारी आदि भी उपस्थित रहे।