स्‍तन कैंसर रोकने में महिलाओं की जागरूकता सबसे अहम

केजीएमयू में आयोजित की गयी पिंक रिबन रैली

लखनऊ। स्तन कैंसर को रोकने के लिए महिलाओं को जागरूक करने की आवश्यकता है. उन्हें चाहिए कि वे समय-समय पर अपने स्तन की जांच करती रहें और अगर कोई गाँठ महसूस हो तो डॉक्टर से संपर्क करें. यह बात ज्रनरल बी सिंह ने केजीएमयू में स्‍तन कैंसर के प्रति जागरूकता के लिए आयोजित की जाने वाली पिंक रिबन रैली को सम्‍बोधित करते हुए कही।

मुख्‍य अतिथि के रूप में शामिल जनरल बी सिंह ने कहा कि स्‍तन कैंसर को लेकर अगर महिलाएं जागरूक रहेंगी तो स्‍तन कैंसर को रोकना बड़ा काम नहींं है। यह जागरूकता रैली चिकित्सा विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन से शुरू होकर कलाॅम सेण्टर तक गई। रैली को कुलपति प्रो मदनलाल ब्रह्म भट्ट एवं जनरल वी सिहं द्वारा फ्लैग आॅफ किया गया। इस अवसर कुलपति ने कहा कि स्तन कैंसर सर्वाधिक महिलाओं में पाया जाता है। उन्‍होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं की अपेक्षा शहरी क्षेत्र की महिलाओं में स्तन कैंसर के मामले ज्यादा पाये जाते हैं। इसकी प्रथम चरण में पहचान हो जाने पर 90 प्रतिशत मामलों मे ठीक होना संभव है। उन्‍होंने रैली में आये लाेगों से कहा कि आप सभी इस रैली में शामिल होकर स्तन कैंसर की लड़ाई में अहम योगदन दे रहे हैं।

रैली मे चिकित्सा विश्वविद्यालय के मुख्‍य चिकित्‍सा अधीक्षक प्रो एसएन संखवार, चिकित्‍सा अधीक्षक  प्रो0 विजय कुमार, ऑन्‍को सर्जरी विभाग के हेड प्रो0 अरुण चतुर्वेदी, अधिष्‍ठाता पैरामेडिकल संकाय प्रो विनोद जैन,  प्रो आनंद मिश्रा, प्रो हैदर अब्बास, प्रो एए सोनकर, प्रो संतोष कुमार, प्रो पुनिता मानिक सहित अन्य संकाय सदस्य एवं छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।
इस मौके पर ब्रेस्ट कैंसर सप्ताह के अंतर्गत पोस्टर प्रतियोगिता के विजेता अर्चिता, गायत्री सिंह, आफरीन, प्रज्ञा मौर्या को पुरस्कृत किया गया।