व्‍यक्ति के संसार में आते व जाते समय नर्स की भूमिका महत्‍वपूर्ण

मुम्‍बई की संस्‍था ने केजीएमयू की नर्सों को किया सम्‍मानित

लखनऊ। मरीज के उपचार में चिकित्‍सक के साथ ही अन्‍य स्‍टाफ की भूमिका को महत्‍वपूर्ण समझने वाले मुम्बई से आये अनाम प्रेम परिवार द्वारा आज केजीएमयू की नर्सेज को सम्मानित एवं उनके प्रति आभार प्रकट किया गया।

 

अनाम प्रेम परिवार की ओर से आंनद सिंह, रीना सिंह, सागर, वैशाली कात कड़े,  क्षितीज  एवं अन्य सदस्यों द्वारा इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। आनंद एवं रीना सिंह द्वारा नवरात्र में नर्सेज को देवी का रूप मानकर उनका सम्मान करने का यह सिलसिला पिछले 10 वर्षो से पूरे भारत में चल रहा है। उनका मानना है कि इंसान जन्म के समय सर्वप्रथम नर्स के हाथों में आकर इस संसार मे आंख खोलता है एवं मृत्यु के समय आखिरी सांस भी नर्स के हाथों में ही छोड़ता है। इतना प्यारा रिश्ता, जो अमूलभूत है इसको भुलाया नहीं जाया सकता।

 

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में नीरा कोहली, विभागाध्यक्ष, रेडियोडायग्नोसिस, विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ मैट्रन क्रिस्टीना, उपकुलसचिव अनित परिहार, प्रदीप गंगवार -महामंत्री कर्मचारी परिषद एवं विश्विद्यालय की सैकड़ों नर्सेज एकत्र हुईं।

 

कार्यक्रम को सफल बनाने में केजीएमयू नर्सेज एसोसिएशन की अध्यक्ष यदुनंदिनी सिंह, उपाध्यक्ष सुनील कुशवाहा, विभा सिंह, सुनील चौहान, राहुल सिंह, हेमंत गुधेनिया आदि का योगदान रहा।