शुरू हुआ ‘हर रविवार मच्छर पर वार ’

सचिव स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण वी हेकाली ने किया सिविल अस्पताल का दौरा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह के निर्देश से मलेरिया विभाग के अधिकारियों ने अस्पतालों में मच्छरों के पैदा होने से स्रोत को खत्म करने का काम युद्ध स्तर पर शुरू कर दिया है। हर रविवार मच्छर पर वार अभियान के तहत रविवार 9 जुलाई को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की सचिव वी हेकाली के नेतृत्व में मलेरिया विभाग की टीम ने डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल)अस्पताल का निरीक्षण किया और अस्पताल में वार्डों से लेकर परिसर व छतों पर एकत्र कबाड़ को हटवाकर भरा हुआ बरसाती पानी हटवाया साथ ही दोबारा पानी न भरे, स्रोत बंद कराए।
सिविल में संयुक्त निदेशक मलेरिया डॉ.एके शर्मा की टीम ने परिसर में चप्पे चप्पे का निरीक्षण किया और साफ-सफाई कराई, पानी रूकने के स्थानों को बंद कराया। इसके बाद उन्होंने अस्पताल की छत का निरीक्षण किया और छत पर कबाड़ लगा था, जिसमें मच्छरों के पनपने के तमाम संसाधन थे, जिन्हें सफाई कर्मचारियों की मदद से हटवाया कर पानी रूकने के स्रोत बंद कराये। इसके साथ ही सचिव ने अस्पताल के अधिकारियों के साथ वार्ता कर, हर रविवार को ड्राई डे बनाने के लिए कूलर आदि स्रोत को सुखाने के निर्देश दिये।

दूसरी तरफ स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ.पद्माकर सिंह ने शनिवार को लोहिया अस्पताल का निरीक्षण किया था, वहां भी उन्होंने मच्छरों के पनपने के स्रोत बंद कराये थे। ज्ञातव्य हो कि स्वास्थ्य मंत्री ने सभी अस्पताल प्रशासन के अधिकारियों अस्पतालों में एंटीलार्वा अभियान चलाने का निर्देश दिये थे, अस्पताल परिसर से एक सप्ताह में मच्छर व लार्वा जड़ मूल से खत्म करने के निर्देश दिये थे। उक्त के तहत अधिकारियों ने कमर कस ली है और मच्छर रोधी अभियान में जुटे हैं।