…ताकि छात्राओं को दिक्कत न हो उन खास दिनों में

ग्रेटर नोएडा के तीन शिक्षण संस्थानों ने उठाया कदम

लखनऊ। छात्राओं को उन ‘खास दिनों’ में किसी प्रकार की दिक्कत न हो, इसके लिए शिक्षण संस्थानों ने अच्छी व्यवस्था की है। ग्रेटर नोएडा की एक यूनिवर्सिटी और 2 कॉलेज में छात्राओं को सैनेटरी नेपकिन की अचानक जरूरत पड़ने पर अब बाजार नहीं जाना पड़ेगा।

कैंपस में जल्द ही सैनेटरी नेपकिन वेंडिंग मशीनें लगाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए एक यूनिवर्सिटी ने फंड भी जारी करने के लिए बैठक की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार नॉलेज पार्क स्थित शारदा यूनिवर्सिटी के डिप्टी रजिस्ट्रार अजीत सिंह ने बताया कि उनकी यूनिवर्सिटी में गर्ल्स हॉस्टल में सैनेटरी मशीन लगाने का फैसला लिया है।

गलगोटिया कॉलेज के पीआरओ श्रीसंत ने बताया कि उनके कॉलेज में मशीन लगाने के लिए मीटिंग भी हो चुकी है। द्रोणाचार्य इंजीनियरिंग कॉलेज के प्लानिंग डायरेक्टर ने कहा कि मार्च के अंतिम सप्ताह तक सैनेटरी नेपकिन मशीन लगाने की योजना है।

वहीं नोएडा के सेक्टर-12 स्थित सूर्यांश पॉलिटेक्निक कॉलेज में करीब एक महीना पहले छात्राओं के लिए लगाई गई सैनेटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन में से 94 का इस्तेमाल हो चुका है। मशीन में 100 नेपकिन डाले गए थे। वेंडिंग मशीन में 2 रुपये का सिक्का डालकर नेपकिन निकाला जा सकता है।