शवगृह में तैनात 4 कर्मियों की सेवाएं समाप्त

चारों कर्मियों के विरूद्ध एफ0आई0आर0 भी दर्ज

लखनऊ.  डा0 राम मनोहर लोहिया चिकित्सालय, गोमती नगर में मृत महिला का शव विकृत अवस्था में पाये जाने पर शव गृह में तैनात एक वार्ड ब्वाय व तीन सुरक्षा कर्मियों की सेवाएं तत्काल प्रभाव से समाप्त करते हुए इनके विरूद्ध एफ0आई0आर0 दर्ज करा दी गयी है।

यह जानकारी प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, प्रशान्त त्रिवेदी ने आज यहां दी। उन्होंने बताया कि महिला पुष्पा तिवारी पत्नी विनोद कुमार उम्र 40 वर्ष कल दोपहर इलाज हेतु गम्भीर अवस्था में लोहिया चिकित्सालय लाई गईं थीं, जिसकी सायं मृत्यु हो गयी। परिजनों की उपस्थिति में शव को पोस्टमार्टम हेतु अस्पताल के शवगृह में रखा गया था। पोस्टमार्टम के लिए आज सुबह 9 बजे के करीब शवगृह का दरवाजा खोला गया, तो मृतक महिला का चेहरा विकृत अवस्था में पाया गया।

प्रमुख सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि मामले की गम्भीरता को देखते हुए शव गृह में तैनात वार्ड ब्वाय इस्लाम, सुरक्षा गार्ड पवन मिश्रा तथा सिक्योरिटी सुपरवाइजर आशीष एवं अनिल को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त करते हुए इनके खिलाफ एफ0आई0आर0 भी दर्ज करा दी गयी है। उन्होंने बताया कि शव फ्रीजर में था और शव गृह का दरवाजा बंद था। सुबह शव गृह खोलने पर शव फ्रीजर के बाहर मिला और शव के साथ छेड़-छाड़ भी किया जाना पाया गया। प्रथम दृष्टया कर्मियों की लापरवाही सामने आयी, जिसके कारण इनकी सेवा समाप्त कर दी गई।
श्री त्रिवेदी ने बताया कि प्रकरण में जांच के दौरान और जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई की जाएगी।