सीतापुर आई हॉस्पिटल को सरकार से जोडऩे की योजना

स्वास्थ्य मंत्री ने किया सीतापुर आंख अस्पताल का निरीक्षण

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने सोमवार 3 जुलाई को जनपद सीतापुर में सीतापुर आंख अस्पताल का निरीक्षण किया। सर्वप्रथम उन्होंने अस्पताल पहुंचकर आंख अस्पताल के संस्थापक स्व. महेश चन्द्र मेहरा की प्रतिमा पर श्रद्धासुमन अर्पित किये। उन्होंने अस्पताल के निरीक्षण के दौरान फोटो गैलरी को देखने पर भावुक होते हुये कहा कि इस अस्पताल से मेरा आत्मिक लगाव है। उन्होंने गैलरी में लगी भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पं जवाहर लाल नेहरू, राष्ट्रपति जाकिर हुसैन, लाल बहादुर शास्त्री, मोरार जी देसाई, चौधरी चरण सिंह एवं अन्य महानुभाव के फोटो को देखते हुये अपने नाना लाल बहादुर शास्त्री का स्मरण करते हुए उनके जीवन चरित्र पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी अनुरोध करूंगा कि वह भी एक बार सीतापुर आकर आंख के अस्पताल का भ्रमण अवश्य करें।
निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सीतापुर आंख अस्पताल को राज्य सरकार से जोडऩे की योजना है ताकि राज्य सरकार से अनुदान मिल सके और इस चिकित्सालय को आगे बढ़ाया जा सके। उन्होंने कहा कि अस्पताल में मरीजों के साथ अच्छा व्यवहार होना चाहिए। साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाये ताकि किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचा जा सके।
श्री सिंह ने कहा कि प्रदेश के सरकारी चिकित्सालयों में डॉक्टरों कमी दूर करने के लिए चिकित्सकों की सेवानिवृत्ति की आयु सीमा 60 से बढ़ाकर 62 वर्ष कर दी गयी है। उन्होंने कहा कि गांव वालों को बेहतर स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से टेली मेडिसन योजना शुरू की जायेगी। इसी तरह गांव में टेली पैथालोजी भी लेकर आ रहे हैं।
आंख अस्पताल निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी डॉ. सारिका मोहन, पुलिस अधीक्षक मृगेंद्र सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी धु्रवराज सिंह, अपर चिकित्सा अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी आंख अस्पताल डॉ. मधु भदौरिया तथा अन्य सभी संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।