Tuesday , May 10 2022

दवाएं नहीं मिल रही हैं, पैसे मांगे जा रहे हैं, शिकायत कीजिये गोपनीय रहेगी

केजीएमयू के ट्रामा सेंटर में क्रिटिकल केयर यूनिट में हुई है फीड बैक फॉर्म की शुरुआत

 

लखनऊ। केजीएमयू के ट्रामा सेंटर में एक अच्छी शुरुआत हुई है. मरीजों को दी जाने वाली सुविधाओं के साथ ही परिजनों को होने वाली अनेक दिक्कतों की शिकायात गोपनीय तरीके से सीधे अधिकारियों तक पहुंचेगी,  जहाँ इनका समाधान किया जायेगा.

 

इस बारे में सीसीयू इंचार्ज डॉ.अविनाश अग्रवाल ने बताया कि इस समस्या के समाधान के लिए हमने फीड बैक फार्म सिस्टम शुरू किया है. डॉ. अग्रवाल ने बताया कि ट्रामा सेंटर के क्रिटिकल केयर यूनिट में मरीज व तीमारदार अपनी शिकायतों को गोपनीय तरीके से प्रबंधन तक पहुंचाने के लिए उन्हें एक विशेष फार्म दिया जा रहा है। यह फार्म एक दिन छोड़कर यूनिट में भर्ती सभी मरीजों के परिवारीजनों को दिया जाता है। इसमें उन्हें विभाग में मिलने वाली सुविधाओं और दिक्कतों को दर्ज करना होता है। इसके बाद उक्त फार्म, विभाग में स्थापित विशेष बाक्स में डालने को कहा जाता है।

 

इंचार्ज ने फार्म द्वारा मिली परिवारीजनेां की शिकायतों को दूर करने का बंदोबस्त भी शुरू कर दिया है। शिकायतों को दूर करने के लिए विभागीय बैठक बुलाई है। डॉ अग्रवाल के अनुसार क्रिटिकल केयर यूनिट (सीसीयू ) में भर्ती मरीजों के परिवारीजनों ने बताया कि गरीब होने के बावजूद उन्हें अस्पताल से दवाएं नही मिल रही हैं, कुछ ने बताया कि महिला टायलेट की सुविधा सुचारु नही है।

 

उन्होंने बताया कि सुचारू व्यवस्था संचालन के लिए सीसीयू के सीसीटीवी कैमरे और सीपीएमएस सिस्टम को स्मार्ट फोन से कनेक्ट कर लिया गया है। अब विभाग के डॉक्टर 24 घंटे, किसी भी मरीज का हाल मोबाइल पर दे सकते हैं साथ ही यूनिट के अंदर की गतिविधियों पर भी निगरानी हो सकेगी। सुविधा शुरू करने के संबन्ध में उन्होंने बताया कि अक्सर मरीज व तीमारदारों को शिकायत रहती है कि इलाज के दौरान कर्मचारियों द्वारा उनसे पैसों की मांग की गयी। उनके मरीज को देखने के लिए डाक्टर नहीं आते। कई बार बुलाने पर नर्स व पैरा मेडिकल स्टाफ ने उनके मरीज को दवा दी। कर्मचारियों का व्यवहार उनके प्रति अच्छा नहीं रहा। इस लिए अब मरीजों व तीमारदार अपनी शिकायत फार्म भर कर सकेगे। मरीज या तीमारदार को हर तीसरे दिन फार्म भरना होगा और उसे रखे बाक्स में डालना होगा। बाक्स महीने में 15 दिन में ओपन किया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × 5 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.