नेस्ले ने कहा, फेल हुए नमूने पुराने, अब जो मैगी आ रही वह पूरी तरह सुरक्षित

 

शाहजहांपुर में वर्ष 2015 में लिए गए नमूने जांच में हो गए थे फेल

लखनऊ. मैगी के निर्माता नेस्ले ने कहा है कि ‘‘हम पूरे विश्वास के साथ दावा करते हैं कि वर्तमान में जो मैगी नूडल्स आ रहे हैं वे 100 प्रतिशत सुरक्षित हैं।

पिछले दिनों प्रोडक्ट्स के फेल हुए नमूनों के बारे में कम्पनी की ओर से जारी एक पत्र में कहा गया है कि जिन नमूनों के फेल होने की बात की जा रही है वे वर्ष 2015 में लिए गए थे. पत्र में कहा गया है कि इस सम्बन्ध में कम्पनी को अभी पारित आदेश नहीं मिले हैं, लेकिन जो सूचना मिली है उसके अनुसार ये नमूने साल 2015 के हैं और यह समस्या नूडल्स में ‘राख की सामग्री’ से संबंधित है। पत्र के अनुसार यह मापदंडों के त्रुटिपूर्ण प्रयोग का मामला लगता है और पारित आदेश मिलने के बाद हम तत्काल एक अपील दायर करेंगे।

कम्पनी ने कहा है कि वर्ष 2015 में नेस्ले इंडिया एवं अन्य कंपनियों ने औद्योगिक संगठनों के माध्यम से संबंधित अधिकारियों के सामने इंस्टैंट नूडल्स के लिए मापदंड स्थापित करने के लिए प्रतिनिधित्व किया था, ताकि प्रवर्तन अधिकारियों व ग्राहकों के मन में कोई भ्रम न रह जाए, और इसके बाद मापदंड तय कर दिए गए है और उत्पाद अब इन मापदंडों का पालन करता है।