Tuesday , October 26 2021

सिलिंडर लिये व्यक्ति को एमआरआई मशीन ने खींचा, मौके पर ही हुई दर्दनाक मौत

मुंबई में वार्ड ब्‍वॉय की लापरवाही से हुए हादसे में मौके पर ही दर्दनाक मौत

 

लखनऊ. एमआरआई जांच के कमरे में जैसे ही युवक ऑक्सीजन सिलिंडर लेकर अन्दर घुसा, मशीन ने सिलिंडर सहित युवक को अपनी ओर खींच लिया, और देखते ही देखते युवक मौत के आगोश में समा गया. यह दर्दनाक हादसा मुंबई के एक निजी अस्पताल में हुआ. कर्मचारी की थोड़ी सी लापरवाही के चलते एमआरआई मशीन में फंसकर एक व्यक्ति की मौत हो गयी. यहां के नायर अस्पताल में हुए इस बेहद दर्दनाक हादसे में 32 वर्षीय राजेश मारू की जान चली गई। राजेश को अस्पताल के ही एक कर्मचारी ने ऑक्सीजन सिलिंडर के साथ एमआरआई रूम में भेजा था। कमरे में जाते ही राजेश को एमआरआई मशीन ने ऑक्सीजन सिलिंडर समेत खींच लिया और उसकी उसी जगह मौत हो गई।

                                    राजेश मारू

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अस्पताल प्रशासन ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए उस वार्ड व्बॉय को सस्पेंड कर दिया है जिसने राजेश को ऑक्सीजन सिलिंडर के साथ रूम में भेजा था। मुंबई पुलिस ने इस मामले में अस्पताल के डॉक्टर, वार्ड ब्वॉय और एक महिला अटेंडेट के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने इस मामले में मृतक के परिवार को 5 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है।

मिली जानकारी के मुताबिक राजेश की माँ अस्पताल में भर्ती थी और उनकी एमआरआई जांच होनी थी. बताया जाता है कि वार्ड बॉय ने एमआरआई जांच के लिए राजेश मारु को ऑक्सीजन सिलिंडर के साथ ही एमआरआई रूम भेज दिया। राजेश के रूम में जाते ही उसे एमआरआई मशीन ने अपनी तरफ खींच लिया जिसके उसके हाथ में पकड़ा ऑक्सीजन सिलिंडर खुल गया और गैस उसके पेट में जाने लगी। गैस अंदर जाते ही राजेश का शरीर हद से ज्यादा फूल गया और उसकी आंखें बाहर आ गई। थोड़ी ही देर में इस बेहद दर्दनाक हादसे में राजेश की जान चली गई। मिली जानकारी के मुताबिक राजेश मारू अस्पताल में अपनी मां को भर्ती कराने आया था। डॉक्टर ने राजेश की मां का एमआरआई कराने को कहा। जब राजेश मां को लेकर एमआरआई रूम के पास पहुंचा तो वार्ड ब्वॉय ने राजेश को ऑक्सीजन सिलिंडर लेकर अंदर जाने को कहा और फिर अंदर राजेश हादसे का शिकार हो गया।

 

फिलहाल मुंबई पुलिस मामले की जांच कर रही है। ज्ञात हो कुछ समय पूर्व उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित डॉ. राम मनोहर लोहिया संसथान में भी इसी तरह एक बार पुलिस वाले की पिस्टल एमआरआई मशीन ने खीच ली थी, इस घटना में मशीन खराब हो गयी थी.

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × five =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.