Thursday , August 18 2022

कुष्‍ठ रोग विभाग में कार्यरत करोड़पति स्‍वीपर, असलियत जानकर चौंक जायेंगे

-प्रयागराज में कार्यरत इस स्‍वीपर के बैंक खाते में जमा हैं 70 लाख रुपये, दस साल से नहीं निकाले रुपये

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। प्रयागराज में कुष्ठ रोग विभाग में काम करने वाले करोड़पति स्वीपर का पता चला है, इस स्‍वीपर के बैंक के खाते में 70 लाख रुपए जमा हैं, इसके अलावा प्रयागराज में उसके नाम जमीन और मकान भी है। सबसे ज्यादा ताज्जुब की बात यह है कि उसने बीते 10 साल से बैंक से अपनी सैलरी नहीं निकाली है। अब सवाल उठता है कि जब सैलरी निकाली नहीं तो उसका घर खर्च कैसे चलता होगा, इसके पीछे की कहानी दिलचस्‍प है, और इसका राज उसकी वेशभूषा और गंदे कपड़ों में छिपा है। दरअसल लोग उसकी स्थिति देखकर भिखारी समझकर पैसे दे देते हैं, वह लोगों के पैर छूकर पैसे मांगता है तो उसे लोग पैसे दे देते हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यह दिलचस्प वाक्या कुष्‍ठ रोग विभाग में कार्यरत धीरज नाम के स्‍वीपर से जुड़ा है। धीरज की माली हालत की असलियत का पता तब चला जब उसके द्वारा बैंक से लेनदेन न किये जाने से परेशान बैंक के लोग उसे खोजते हुए उसके ऑफि‍स पहुंचे। उन्होंने धीरज के बारे में ऑफिस में मौजूद लोगों से जानकारी मांगी तो लोगों ने उसे उन्हें बताया कि वह तो बहुत गरीब है इस पर बैंक कर्मचारियों ने लोगों के सामने असलियत बताते हुए कहा कि उसके खाते में 70 लाख रुपए जमा हैं और उसने पिछले 10 साल से अपना वेतन नहीं निकाला है।

बताया जाता है कि धीरज थोड़ा मानसिक‍ रूप से कमजोर है। उसकी नौकरी उसे अपने पिता, जो कि इसी विभाग में स्‍वीपर के पद पर कार्यरत थे, नौकरी के दौरान उनकी मृत्‍यु होने के बाद अनुकम्‍पा नौकरी पुत्र धीरज को मिल गयी।

आश्चर्यचकित कर देने वाली धीरज की कहानी का एक और खास पहलू है कि‍ धीरज आयकर दाता भी है, और सरकार को इनकम टैक्‍स जमा करता है। बताया जाता है कि धीरज अपनी मां और बहन के साथ रहता है, धीरज की अभी शादी नहीं हुई है, वह शादी नहीं करना चाहता है क्‍योंकि उसे डर है कि कहीं कोई उसके पैसे ले न ले।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

one + 14 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.