Saturday , December 4 2021

ग्रामीण इलाकों में भी महानगर जैसी चिकित्सा के लिए सरकार ने जारी किया यह ऐप

उपचार के आधुनिक तरीकों और अन्य चिकित्सा जानकारियां साझा कर सकेंगे चिकित्सक

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा है कि गांवों में भी वही स्वास्थ्य सुविधाएं मिलें, जो महानगरों में मिलती हैं। यह तकनीकी के बेहतर उपयोग से ही संभव है, जिससे स्वास्थ्य क्षेत्र में सुधार होगा। इस उददेश्य की पूर्ति में ‘‘चरक एप्प’’ उपयोगी होगा। इसके जरिए दूर-दराज के इलाकों के चिकित्सक भी उपचार के आधुनिक तरीकों और अन्य चिकित्सा जानकारियां साझा कर सकेंगे।

 

श्री सिंह ने चरक एप्प (सीएलआईआरनेट से संचालित) की शुरूआत करते हुए कहा कि यह एप चिकित्सकों के बीच एक तंत्र बनाता है, जो दूरी या बुनियादी ढांचे की परवाह किए बिना जानकारी देने में समर्थ है। इससे ग्रामीणों को उचित इलाज मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि यह एप यह सुनिश्चित करने में मदद करेगा कि सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली में हर चिकित्सक जानकार हो और प्रदेश सरकार के विकसित मानक व उपचार के तरीकों का पालन करे।

मंत्री ने कहा कि यह एप संस्थाओं ओर विशेषज्ञों को चिकित्सकों के साथ जोड़कर उनको और प्रभावी बनाएगा। प्रदेश में आम आदमी के लिए समान विचारधारा वाले संगठनों के साथ तालमेल बनाएगा। जिससे सही उपचार में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में मौजूद प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत किया जा रहा है ताकि समाज के अंतिम पायदान पर मौजूद जरूरतमंद व्यक्ति को इसका लाभ मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × 1 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.