ज्ञान कभी व्‍यर्थ नहीं जाता, नयी-नयी चीजों को सीखने के लिए तत्‍पर रहना चाहिये

महर्षि सूचना प्रौद्योगिकी विश्‍व विद्यालय में ओरियन्‍टेशन कार्यक्रम आयोजित

 

लखनऊ। ज्ञान कभी व्‍यर्थ नहीं जाता है, हमें सदैव नयी-नयी चीजों को सीखने के लिए तत्‍पर रहना चाहिये, जो वर्तमान ज्ञान आधारित अर्थव्‍यवस्‍था की मांग है। यह बात भारतीय प्रबंध संस्‍थान, लखनऊ के वरिष्‍ठ प्रोफेसर समीर कुमार श्रीवास्‍तव ने कही। प्रो श्रीवास्‍तव यहां महर्षि सूचना प्रौद्योगिकी विश्‍व विद्यालय के वाणिज्‍य एवं प्रबंधन संकाय में आयोजित ओरियन्‍टेशन कार्यक्रम में मुख्‍य अतिथि के रूप में सम्‍बोधित कर रहे थे। यह ओरियन्‍टेशन प्रोग्राम बी कॉम, बीबीए, एम कॉम, एमबीए में प्रवेश लिये नये विद्यार्थियों के लिए आयोजित किया गया था।

 

प्रोफेसर श्रीवास्‍तव ने कहा कि पढ़ाई डिग्री के लिए नहीं, ज्ञान एवं कौशल अर्जन करने के लिए करें। ओरियन्‍टेशन कार्यक्रम में विश्‍व विद्यालय के कुलसचिव प्रो पीयूष पाण्‍डेय ने विद्यार्थियों को सम्‍बोधित करते हुए कहा कि आप बेहद भाग्‍यशाली हैं जो उच्‍च शिक्षा ग्रहण करने का अवसर पाये, इस स्‍वर्णिम अवसर का प्रयोग उज्‍ज्‍वल भविष्‍य को बनाने के लिए करिये।

 

इस कार्यक्रम में जेएनपीजी कॉलेज के शिक्षा विभाग की विभागाध्‍यक्ष डॉ रश्मि सोनी ने विद्यार्थियों को जीवन कौशल के बारे में बताया। कार्यक्रम में लखनऊ विश्‍वविद्यालय के व्‍यवसाय प्रशासन विभाग के विभागाध्‍यक्ष प्रो संजय मेधावी, विश्‍वविद्यालय के कुलपति प्रो पीके भारती एवं विश्‍व विद्यालय के अनूप श्रीवास्‍तव, अभिषेक वर्मा, वाणिज्‍य एवं प्रबंधन संकाय संकायाध्‍यक्ष प्रो सपन अस्‍थाना ने भी सम्‍बोधित किया। कार्यक्रम में प्रो एचके द्विवेदी, प्रो आरडी द्विवेदी, प्रो एसपी पाण्‍डेय, प्रो डीके गोस्‍वामी, डॉ सिन्‍धुजा मिश्रा ने भी अपनी शुभकामनाएं नये विद्यार्थियों को दीं। कार्यक्रम में प्रो नीता उपाध्‍याय, प्रो विनय कुमार, प्रो अजय भारती, डॉ एसके सिंह, डॉ आनन्‍द कुमार, आरपी सिंह,, रश्मि राकेश, अवनीश कुमार सिंह, अनुरंजिता दीक्षित, जिजनाशा मिश्रा, अरविन्‍द सक्‍सेना, डॉ रश्मि श्रीवास्तव, कंचन अवस्‍थी, ब्‍यूटी खत्री सहित विश्‍व विद्यालय के विभिन्‍न शिक्षकगण उपस्थित थे।