एचडीएफसी बैंक ने स्‍थापित किया पहला डिजिटल क्‍लासरूम

-फरवरी 2021 तक यूपी के 50 स्‍कूलों में डिजि‍टल क्‍लासरूम स्‍थापित करेगा बैंक

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। स्कूल जाने वाले बच्चों को उनकी पढ़ाई में मदद करने के लिए, एचडीएफ़सी बैंक पूरे उत्तर प्रदेश में 50 स्कूलों को डिजिटल कक्षाओं से लैस करेगा। इस पहल का शीर्षक “बेसिक शिक्षा स्कूल क्लासरूम” है, जो आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के उन बच्चों की मदद करने के लिए लक्षित है, जिनके पास कंप्यूटर या उपकरण नहीं हैं। प्रथम स्‍कूल के रूप में यहां लखनऊ स्थित नरही में प्राइमरी पाठशाला में पहला डिजिटल क्‍लासरूम स्‍थापित किया गया।

इस अवसर पर मुख्‍य अतिथि के रूप में राज्य मंत्री, प्राथमिक शिक्षा सतीश चंद्र द्विवेदी  उपस्थित रहे, उन्‍होंने एसपीडी-शिक्षा विजय किरण आनंद व एचडीएफसी के क्‍लस्‍टर हेड दीपक चोपड़ा के साथ लखनऊ में पहली डिजिटल कक्षा का उद्घाटन किया। ज्ञात हो कि प्रमुख सीएसआर कार्यक्रम #’परिवर्तन’ के तहत स्मार्ट उपकरणों का उपयोग करके स्कूलों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने में मदद करने के लिए यह बैंक की राष्ट्रीय पहल है।

इस अवसर पर बोलते हुए, एचडीएफ़सी बैंक के जोनल हेड अनिल खुगशाल ने कहा, “शिक्षा ‘परिवर्तन’ पहल के तहत हमारे फोकस क्षेत्रों में से एक है। बेसिक शिक्षा स्कूल कक्षाओं की पहल के साथ, हम स्कूलों और बच्चों को सीखने के नए तरीकों का लाभ उठाने में मदद करना चाहते हैं। पहली डिजिटल कक्षा आज लखनऊ में नरही स्थित प्राइमरी पाठशाला पर स्थापित की गई है। फरवरी के अंत तक, उत्तर प्रदेश के 50 स्कूलों में बच्चों की शैक्षिक आवश्यकताओं का खयाल रखने के लिए डिजिटल क्लासरूम होंगे। राज्य भर में 5,000 से अधिक स्कूल जाने वाले बच्चे इस पहल से लाभान्वित होंगे।