Friday , July 1 2022

ट्रॉमा सेंटर में भर्ती युवक के परिजनों ने किया रेजीडेंट डॉक्‍टर पर हमला, तोड़फोड़

-इलाज को लेकर लापरवाही का आरोप लगाकर अभद्र व्‍यवहार का आरोप, चौक कोतवाली में दी गयी तहरीर

लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍वविद्यालय स्थित ट्रॉमा सेंटर में भर्ती युवक के इलाज से असंतुष्‍ट उसके परिजनों द्वारा अभद्र व्‍यवहार, तोड़फोड़, रेजीडेंट्स डॉक्‍टरों से गाली-गलौज कर एक रेजीडेंट पर बोतल से हमला कर उसे घायल किये जाने की खबर है। घटना से नाराज रेजीडेंट्स डॉक्‍टर्स एसोसिएशन की शिकायत पर केजीएमयू प्रशासन ने घटना की एफआईआर लिखने के लिए चौक कोतवाली में तहरीर दी है। बताया जाता है कि पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद है।

रेजीडेंट एसोसिएशन के अध्‍यक्ष डॉ राहुल भरत ने बताया कि शराब पीकर गाड़ी चलाने के कारण दुर्घटना का शिकार हुए एक निजी मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे कौस्‍तुभ सिंह को केजीएमयू ट्रॉमा सेंटर में आज सोमवार को सुबह करीब साढ़े छह बजे उसके सहपाठियों ने भर्ती कराया था। उसे तीसरे तल पर बने न्यूरो सर्जरी विभाग के वार्ड में भर्ती कराया गया।

डॉ राहुल ने बताया कि सोमवार को अपरान्‍ह करीब 1 बजकर 40 मिनट पर कौस्‍तुभ के पिता, माता रश्मि सिंह व भाई प्रखर उसे देखने पहुंचे तो उन्‍हें मरीज का हाल बताया गया कि अब पहले से ठीक है, और अच्‍छे से अच्‍छा इलाज दिया जा रहा है। उन्‍होंने बताया कि इसके बाद मां रश्मि ने इलाज के लिए तीन घंटे बाद वेंटीलेटर उपलब्‍ध कराये जाने की बात को लेकर झगड़ा शुरू कर दिया। इस बारे में डॉ राहुल का कहना है  कि मरीज को वेंटीलेटर की कब जरूरत है, कब नहीं यह डॉक्‍टर समझता है। आरोप है कि मां रश्मि ने काउंटर पर बहस करते-करते तोड़फोड़ शुरू कर दी, साथ में आये परिजन भी डॉक्‍टरों के साथ अभद्र व्‍यवहार करने लगेे, आरोप है कि उन्‍होंने ड्यूटी पर तैनात सीनियर रेजीडेंट डॉ त्रिपुरारी पांडेय के सिर पर बोतल से हमला कर दिया जिसमें रेजीडेंट डॉक्‍टर को चोट आयी है। इस घटना से समस्त रेजिडेंट डॉक्टरों में रोष व्याप्त है।

रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन (RDA) , इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए ट्रॉमा सेंटर प्रशासन से मांग की है कि इस घटना में शामिल लोगों पर एफ आई आर दर्ज कराएं व उचित कार्रवाई करें। यह भी कहा गया कि इस संदर्भ में वार्ड में लगे सीसीटीवी कैमरे में साक्ष्य उपस्थित हैं। साथ ही न्‍यूरो वार्ड में भर्ती मरीज के रिश्‍तेदारों को भी गवाह के रूप में बताया गया है। एसोसिएशन का साफ कहना है कि इस घटना को लेकर कोई हीला-हवाली बर्दाश्‍त नहीं होगी। उन्‍होंने बताया कि हालांकि घटना की जानकारी पाकर प्रॉक्टर, डॉ आर ए एस कुशवाहा ने चौक कोतवाली को एफआईआर दर्ज कराने के लिए तहरीर भेजी है। डॉ राहुल के अनुसार युवक के पिता  उत्‍तर प्रदेश सरकार में प्रशासनिक अधिकारी हैं और नोएडा में उच्‍च पद पर तैनात हैं।