स्‍वास्थ्‍य सलामत रखते हुए सौंदर्य बढ़ाने के तरीके बताये विशेषज्ञों ने

ऑल इंडिया कॉस्‍मेटोलॉजिस्‍ट एंड ब्‍यूटीशियंस एसोसिएशन ने मनाया 16वां वार्षिकोत्‍सव

लखनऊ। ऑल इंडिया कॉस्‍मेटोलॉजिस्‍ट एंड ब्‍यूटीशियंस एसोसिएशन ने अपना 16वां वार्षिकोत्‍सव ‘स्‍वास्‍थ्‍य एवं सौंदर्य’ मनाया। इस मौ‍के पर देश विदेश के विशेषज्ञों ने भाग लिया। गोमती नगर स्थित होटल ताज में आयोजित इस समारोह में स्‍वास्‍थ्‍य के दृष्टि के सुरक्षित रखते हुए सौंदर्य निखारने के लिए विभिन्‍न प्रकार की जानकारियां और प्रशिक्षण दिया गया। समारोह का उद्घाटन मुख्‍य अतिथि भातखंडे संगीत विश्‍वविद्यालय की कुलपति डॉ श्रुति सादोलिकर ने किया।

सुंदरता में चार चांद लगाता है तिल लेकिन…

चेहरे का सौंदर्य बढ़ाने के लिए कॉस्‍मेटिक तरीके अपनाने के बारे में आयोजित चर्चा में प्‍लास्टिक सर्जन डॉ ब्रजेश कुमार ने संचालन करते हुए कई समस्‍यायें रखीं जिस पर डॉ एसडी पाण्‍डेय, डॉ एके सिंह, डॉ वैभव खन्‍ना, डॉ आदर्श कुमार तथा प्रो विजय कुमार ने अपने विचार रखे। चर्चा में साधना जग्‍गी, ब्‍लासम कोचर, स्मिता सिंह तथा मरियम नाज ने भाग लिया। चर्चा के दौरान बताया गया किसी युवती के चेहरे पर तिल है तो आम तौर पर माना जाता है कि तिल सुंदरता को बढ़ाता है लेकिन इस तिल का अगर आकार बढ़ने लगे या इसमें घाव हो जाये तो इसकी सर्जरी करानी चाहिये।

सफेद दाग हैं तो चिंता की बात नहीं

प्‍लास्टिक सर्जन्‍स की चर्चा में एक और समस्‍या पर बताया गया कि यदि किसी व्‍यक्ति के सफेद दाग हो जाते हैं तो आमतौर पर लोग उसे लोग लेप्रोसी से जोड़कर देखने लगते हैं जबकि सत्‍यता यह है कि सिर्फ सफेद दाग के मात्र एक प्रतिशत मरीजों में ही लेप्रोसी वाले सफेद दाग होते हैं जबकि 99 प्रतिशत सफेद दाग दूसरी वजहों से होते हैं। इसमें बताया गया कि लेप्रोसी के भी अगर दाग हैं तो लेप्रोसी का अब तो इलाज उपलब्‍ध है और किसी बिना लेप्रोसी वाले सफेद दाग हें तो अगर मरीज की इच्‍छा हो तो केमोक्‍लाज ट्रीटमेंट से इसका इलाज करा सकता है।

मुहांसों के निशान पड़ जायें तो…

प्‍लास्टिक सर्जन्‍स ने एक और मुद्दे पर चर्चा करते हुए बताया कि मुहांसे निकलना आम बात है लेकिन कभी-कभी किसी के मुहांसे ऐसे निकल आते हैं जिनके दाग बन जाते हैं तो ऐसे में इसका इलाज सर्जरी से कराया जा सकता है।

टैटू से भी होता है इलाज

प्‍लास्टिक सर्जन्‍स ने अपनी चर्चा में कहा कि कई बार ऐसा होता है कि किसी कटे का निशान मिटाने को लेकर व्‍यक्ति बहुत परेशान रहता है ऐसे लोग टैटूइंग की मदद ले सकते हैं। इससे जहां दाग छिपाना आसान हो जायेगा वहीं देखने में भी सुंदर लगेगा।

 

बालों को फि‍र से कैसे उगायें

डॉ रमा श्रीवास्‍तव ने बताया कि बाल झड़ना एक बड़ी समस्‍या है। आमतौर पर रोजाना 100 बाल झड़ते हैं इन बालों की पूर्ति नये बाल उगाकर की जा सकती है। इसके लिए एक महत्‍वपूर्ण तरीका है अच्‍छी डाइट। उन्‍होंने बताया कि प्रतिदिन विटामिन सी युक्‍त रसदार फलों का सेवन करना चाहिये जैसे आंवला, संतरा, नीबू आदि। उन्‍होंने बताया कि इसके विकलप के रूप में इसकी टेबलेट भी आती हैं 500 मिलीग्राम की एक टेबलेट रोज ली जा सकती है। डॉ रमा श्रीवास्‍तव ने बताया कि इसके अलावा जोजोबा ऑयल और कैस्‍ट्रल ऑयल को बराबर-बराबर मात्रा में मिलाकर बालों की जड़ों में सप्‍ताह में दो बार लगायें तथा अगले दिन शैम्‍पू कर लें। उन्‍होंने बताया कि इसी प्रकार हेयर वीविंग से भी बालों लगाया जा सकता है। डॉ रमा श्रीवास्‍तव ने बताया कि स्‍टेम सेल की सहायता से भी आप बालों को उगाया जा सकता है, इसमें रक्‍त से प्‍लाज्‍मा निकालकर दोबारा से नसों में इंजेक्‍ट कर दिया जाता है।

समारोह में डायबिटोलॉजिस्‍ट डॉ मनोज श्रीवास्‍तव ने बताया कि जीवन शैली में बदलाव करके किस प्रकार मोटापे और डायबिटीज से बच सकते हैं। इसके अलावा मुम्‍बई से आये हरीश भाटिया ने बॉलीवुड तरीके से बालों को काटने की सजीव प्रस्‍तुति दी।