बलरामपुर अस्‍पताल में मिलेगी कान की माइक्रोस्‍कोपिक सर्जरी की सुविधा

-अत्‍याधुनिक लैब की स्‍थापना, पहले डीएनबी स्‍टूडेंट्स को दिया जायेगा प्रशिक्षण

-प्रदेश के सरकारी अस्‍पताल में पहली लैब स्‍थापित, भविष्‍य में मरीजों को मिलेगा लाभ

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। बलरामपुर अस्पताल में निदेशक डॉ.राजीव लोचन ने कान के अंदर की माइक्रोसर्जरी करने के लिए टेंपोरल बोन डिसेक्शन (माइक्रोस्कोपिक) लैब का उद्घाटन किया है। लैब का उद्घाटन करते हुए डॉ.लोचन ने कहा कि लैब का सीधा लाभ प्रदेश के गरीब मरीजों को मिलेगा, क्योंकि माइक्रोसर्जरी की सुविधा सरकारी अस्पतालों में सामान्यतया नहीं मिलती है।

डॉ लोचन ने कहा कि इस लैब में बलरामपुर अस्पताल में आने वाले मरीजों को उपचारित किया जायेगा, मरीजों के इलाज में डीएनबी स्टूडेंट्स प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अक्षीक्षक डॉ.आरके गुप्ता, चिकित्सा अधीक्षक डॉ.हिमांशु कुमार चतुर्वेदी एवं अन्य चिकित्सक मौजूद रहें। ज्ञात हो कि इस लैब में ईएनटी डीएनबी स्टूडेंट्स को सर्जरी से पहले कैडेवर पर, सर्जरी की बारीकियां सिखायी जायेंगी। यह लैब सरकारी अस्पतालों में पहली माइक्रोस्कोपिक लैब है। इस समय बलरामपुर अस्पताल में तीन डीएनबी ईएनटी स्टूडेंट्स हैं। इस मौके पर  डॉ.एससी श्रीवास्तव, डॉ.राजीव शर्मा और डॉ.हिमांशु प्रताप सिंह के साथ ही सीनियर रेजीडेंट्स डॉ.वेद व डॉ.शुभा उपस्थित रहे।