शासन से वार्ता में एक्सरे तकनीशियनों को मिला तोहफा

 

राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद की वार्ता में प्रयोगशाला सहायक ग्राम्य और डार्करूम सहायक को भी मिला आश्वासन

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के अस्पतालों में कार्य करने वाले एक्सरे तकनीशियन के ग्रेड पे में बढ़ोतरी के साथ उन्हें राजपत्रित का दर्जा देने पर सहमति बन गयी है. यही नहीं इसी के साथ ही प्रयोगशाला सहायक ग्राम्य को 2400 ग्रेड पे देने तथा शीघ्र प्रमोशन देने का भी आश्वासन मिला है.

यह जानकारी उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के महामंत्री विजय कुमार राय ने देते हुए बताया है कि सातवें वेतन आयोग की अध्यक्ष वृंदा स्वरूप के साथ परिषद के एक प्रतिनिधि मंडल की आज वार्ता हुई. इस वार्ता में इस बात पर सहमति बनी कि छठे वेतनमान की समस्त अनियमितताओं को दूर करते हुए सातवें वेतनमान में केंद्र के बराबर समस्त भत्तों को अनुमन्य किये जाने के साथ ही तकनीशियनों को 4600 का ग्रेड पे देने, प्रोन्नति किये जाने तथा एक्सरे  तकनीशियन को राजपत्रित किया जायेगा.

इसी प्रकार प्रयोगशाला सहायक ग्राम्य को 2400 ग्रेड पे देने तथा शीघ्र प्रमोशन देने का भी आश्वासन मिला है. साथ ही डार्करूम सहायक को 2800 का ग्रेड वेतन देने तथा प्रोन्नति देने कि व्यवस्था करने, परिवार कल्याण सांख्यकीय सेवा संघ सा वेतन की अनियमितता को तथा राजकीय मेडिकल कॉलेजों के कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान किया जाने तथा प्रदेश के लाखों कर्मचारियों को केंद्र की भांति 8, 16, 24 प्रतिशत मकान किराया भत्ता तथा दो बच्चों की शिक्षा के लिए शिक्षा भट्टा दिए जाने का भी आश्वासन दिया गया. वार्ता के समय परिषद के अध्यक्ष संजीव पाण्डेय, वरिष्ठ उपाध्यक्ष संजय मिश्र गुल्लू, महासचिव वीके राय, कोषाध्यक्ष अम्बरीश अग्निहोत्री, संरक्षक सतीश त्यागी, सम्प्रेक्षक रवि शर्मा, उपाध्यक्ष सुरेश चन्द्र श्रीवास्तव आदि शामिल रहे.