डॉ हैनीमैन जयंती विश्व होम्योपैथी दिवस के रूप में मनाने की अपील

लखनऊ। केन्द्रीय होम्यापैथी परिषद ने होम्योपौथिक चिकित्सा पद्धति के अविष्कारक डॉ. हैनिमैन की जयन्ती 10 अप्रैल को विश्व होम्योपैथी दिवस के रूप में मनाने की अपील की है।
यह जानकारी देते हुए परिषद के वरिष्ठ सदस्य डॉ. अनुरुद्ध वर्मा ने बताया कि परिषद ने इस सम्बन्ध में परिषद ने केन्द्र एवं राज्य सरकारों, देश के होम्योपैथिक कालेजों, संस्थानों एवं संस्थाओं को पत्र लिख कर डॉ. हैनिमैन जयन्ती को विश्व होम्योपैथी दिवस के रुप में मनाने का अनुरोध करते हुए इस अवसर पर सेमीनारों, कार्यशालाओं, चिकित्सा शिविरों, पद यात्राओं एवं जागरुकता कार्यक्रमों आदि का आयोजन करने की अपील की है। उन्होंने बताया है कि होम्योपैथिक चिकित्सकों की अन्तर्राष्ट्रीय संस्था एलएमएचआई ने भी विश्व होम्योपैथी दिवस मनाने के प्रस्ताव का समर्थन किया है। केन्द्रीय परिषद ने कहा है कि होम्योपैथी जैसी महत्वपूर्ण लोक कल्याण से जुडी सम्पूर्ण स्वास्थ्य प्रदान करने वाली पद्धति के प्रति जागरूकता उत्पन्न कर जनता में होम्योपैथी के दर्शन एवं सिद्धान्त के प्रति विश्वास उत्पनन कर होम्योपैथी के पक्ष मे वातावरण सृजित करना आवश्यक है।
उन्होने केन्द्र एवं प्रदेश सरकारों से विश्व होम्योपैथी दिवस को सरकारी रुप में मनाने, इस अवसर पर संदेश जारी करने, होम्योपैथी के विकास के लिए योजनाऐं एवं कार्यक्रम घोषित करने, डॉ. हैनिमैन पर डाक टिकट जारी करने की मांग करते हुए चिकित्सकों से विश्व होम्योपैथी दिवस को भव्य रुप में मना कर होम्योपैथी को जन-जन तक पहुचाने की अपील की है।