एक कदम और बढ़ा धन्वंतरि केंद्र का मरीजों की सेवा का कारवां

लोहिया अस्पताल में 10-10 व्हील चेयर और स्ट्रेचर और स्ट्रेचर स्ट्रेचर मरीजों के लिए उपलब्ध कराए

लखनऊ। धन्वंतरि केंद्र ने अपने छठे सेंटर की शुरुआत आज गोमती नगर स्थित डॉ राम मनोहर मनोहर लोहिया संयुक्त चिकित्सालय से की, इससे पहले धन्वंतरि केंद्र 5 अस्पतालों में अपनी सेवाएं दे रहा है।

केंद्र के अध्यक्ष केजीएमयू के पल्मोनरी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ सूर्यकांत ने बताया कि आज खोले गए केंद्र का उद्घाटन स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने किया। उन्होंने बताया कि फिलहाल अस्पताल में 10 स्ट्रेचर और 10 व्हील व्हील चेयर दी गई हैं। यह स्ट्रेचर और व्हीलचेयर अस्पताल की ओपीडी में उपलब्ध रहेंगी ताकि मरीज के पहुंचने पर उसको डॉक्टर के पास ले जाने के लिए दिक्कत न हो।

डॉ सूर्यकांत ने बताया कि धन्वंतरि केंद्र की स्थापना वर्ष 2016 में की गई थी तथा सबसे पहले इसका केंद्र केजीएमयू में खोला गया जहां पर व्हीलचेयर और स्ट्रेचर के अलावा रैन बसेरा का निर्माण कराया गया। उन्होंने बताया इसके अलावा बलरामपुर अस्पताल में भी स्ट्रेचर और व्हीलचेयर के साथ-साथ 1995 में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा उद्घाटन किए गए रैन बसेरे का अपग्रेडेशन किया गया है। इसके अतिरिक्त स्ट्रेचर और व्हीलचेयर की सुविधा डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी अस्पताल, लोक बंधु अस्पताल तथा रानी लक्ष्मीबाई संयुक्त चिकित्सालय में भी धन्वंतरि केंद्र खोल कर दी जा रही है। डॉ सूर्यकांत ने बताया कि पिछले दिनों हजरतगंज में एक अन्नपूर्णा केंद्र खोलकर उससे ₹10 में भरपेट भोजन गरीबों को उपलब्ध कराया जा रहा है।

केन्द्र का उद्देश्य मरीजों व उनके तीमारदारो को हो रही समस्याओं का उचित समाधान करना है। गोमती नगर स्थित लोहिया अस्पताल में आज हुए कार्यक्रम की अध्यक्षता महापौर संयुक्ता भाटिया ने की। कार्यक्रम में डॉ डी•एस•नेगी, डॉ दीपक मालवीय ,डॉ सूर्यकांत, डॉ राजीव लोचन, डॉ एच•एस•दानू, डॉ सुरेश कुमार चौहान, डॉ संजय गुप्ता ,डॉ निरूपमा सिंह, एके सिंह, ओमप्रकाश पाण्डेय, डॉ निर्मला पंत, अवनीन्द समेत कई अन्य प्रमुख कार्यकर्ता उपस्थित रहे।