Saturday , May 7 2022

पशुपालन में दो संघों का ऐलान, मांगें पूरी न हुईं तो 7 सितम्‍बर से बेमियादी अनशन

-वेटरनरी फार्मासिस्ट संघ और पशुधन प्रसार अधिकारी संघ ने कहा शासनादेश के अनुसार 6 सितम्‍बर तक पूरी करें मांग

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। वेटरनेरी फार्मासिस्‍ट संघ और पशुधन प्रसार अधिकारी संघ ने मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव सहित प्रदेश के आला अधिकारियों से अनुरोध किया है कि 6 सितंबर तक शासनादेश के अनुसार उनकी मांगों को पूरा किया जाय, वरना दोनों संघ संयुक्त रूप से 7 सितम्बर से निदेशालय में अनिश्चित कालीन अनशन करेंगे।

आज निदेशक पशुपालन विभाग को संबोधित पत्र के माध्यम से पशुपालन विभाग के वेटरनरी फार्मासिस्ट संघ के अध्यक्ष पंकज शर्मा व महामंत्री शारिक हसन खान तथा पशुधन प्रसार अधिकारी संघ के अध्यक्ष नितिन सिंह व महामंत्री रविन्द्र कुमार यादव ने संयुक्त रूप से  यह मांग की है।

दोनों संघों ने संयुक्त बयान जारी कर कहा है कि संयुक्त निदेशक (प्रशासन) के पद पर डॉ जयकेश पांडे द्वारा मामलों को जानबूझकर लंबित किया जाता है, जिसके लिए कई बार पत्राचार किया गया है लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई है इसलिए नियमानुसार इस पद पर वरिष्ठ पीसीएस अधिकारी की नियुक्ति की जाय और तब तक के लिए इस पद पर उनके स्थान पर किसी अन्य समकक्ष अधिकारी की नियुक्ति की जाय जो निष्पक्ष रूप से निर्णय लेकर कार्य करे।

संघों के अनुसार यदि ऐसा नहीं किया जाता है तो दोनों संघ संयुक्त रूप से 7 सितम्बर से निदेशालय में अनिश्चित कालीन अनशन करेंगे। राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के महामंत्री अतुल मिश्रा और फार्मासिस्ट फेडरेशन के अध्यक्ष सुनील यादव ने भी संघ के इस कदम का स्वागत किया है और बताया है कि उन्होंने स्वयं कई बार इस विषय पर पत्राचार किया है लेकिन शासन और विभागीय अधिकारियों की शिथिलता से मामले लंबित हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

15 + seven =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.